खुलासे से खलबली, आरएसएस ने किया था इमरजेंसी का समर्थन

पूर्व आईबी प्रमुख के इस रहस्योद्घाटन से आरएसएस की कलई खुल गयी है. टीवी राजेश्वर ने दावा किया है कि आरएसएस ने देश में इमरजेंसी लागू करने के इंदिरा गांधी के फैसले का समर्थन किया था.

करण थापर के साथ पूर्व आईबी प्रमुख टीवी राजेश्वर, फोटो इंडिया टुडे

करण थापर के साथ पूर्व आईबी प्रमुख टीवी राजेश्वर, फोटो इंडिया टुडे

करण थापर को, इंडिया टुडे टीवी के टु द प्वायंट कार्यक्रम में दावा किया कि आरएसएस के तत्कालीन सर संघचालक बाला साहेब देवरस ने इमरजेंसी में इंदिरा द्वार उठाये गये कदमों का स्वागत किया था.

तत्कालीन प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी ने 25-26 जून 1975 को आंतिरक आपातकाल लागू कर दिया था. इस दौरान नागरिकों के अनेक मौलिक अधिकार छीन लिये गये थे.

आईबी के पूर्व प्रमुख ने कहा कि इमरजेंसी लागू करने के फैसले से वह चकित रह गये थे. उन्होंने कहा कि उन्हें इमरजेंसी लागू करने की सूचना रेडियो से मिली थी. राजेश्वर ने कहा कि आरएसएस प्रमुख ने पीएमओ से अपना लिंक स्थापित करने में कामयाबी हासिल कर ली थी. इतना ही नहीं वह इस सिलसिले में पीएम इंदिरागांधी और उनके बेटे संजय गांधी से मिलना चाहते थे हालांकि इंदिरा ने उनसे मिलने से इनकार कर दिया था.

टीवी राजेश्वर के इस खुलासे के बाद भाजपा और आरएसएस के, इमरजेंसी लागू करने पर कांग्रेस को बार बार अपनी आलोचना का शिकार बनाने का साहस खत्म हो गया है.

राजेश्वर ने हाल ही में इन मामलों पर एक पुस्त- इंडिया- द क्रूसियल यर नामक पुस्तक लिखी है.

 

राजेश्वर ने यहां तक कहा कि इमरजेंसी के बाद होने वाले चुनाव में आरएसएस ने इमरजेंसी का समर्थन करने संबंधी सूचना कांग्रेस को दी थी. यह याद रखने की बात है कि उस दौरान हो रहे लोकसभा चुनाव में आरएसएस का राजनीतिक विंग- जन संघ जनता पार्टी के साथ मिल कर कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़ रहा था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*