गुजरात में चवनाव आयोग ने आठ डीएम -आईपीएस को हटाया

चुनाव आयोग ने गुजरात सरकार पर नकेल कसते हुए चार जिलों के डीएम और इतने ही आईपीएस अधिकारियों का तत्काल प्रभाव से ट्रांस्फर करने का निर्देश दिया है.

राज्य की 182 विधानसभा सीटों के लिए 13 से 20 दिसम्बर के बीच चुनाव हो रहे हैं
मालूम हो कि नरेंद्र मोदी सरकार ने चुनावों की अधिसूचना जारी होने से पहले थोक भाव में आईएएस व आईपीएस अधिकारियों का तबादला किया था. उस वक्त आरोप लगे थे कि मोदी सरकार अपने वफादार अधिकारियों को मनपसंद जगह पर भेज रही है.

जिन चार जिलों के कलेक्टरों को हटाया गया है उनमें बांसाकांठा, सबराकांठा, दाहोड़ और तापी शामिल हैं.

जामनगर और पाटन के एसपी को भी तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है. इसके अलावा सूरत सिटी के डीसीपी और अहमदाबाद के स्पेशल ब्रांच के पुलिस आयुक्त को भी स्थानांतरित कर दिया गया है.

इन तबादलों के बारे में बताते हुए गुजरात के चीफ एलेक्टोरल अधिकारी अनिता करवाल ने कहा है कि प्रशासनिक कारणों से ऐसा किया गया है ताकि चुनाव सही तरीके से कराये जा सकें.

एम थेनारसन बांसकंठा के डीएम बनाये गये हैं जबकि समीना हुसैन को सबराकंठा का डीएम बनाया गया है. इसी तरह राकेश शर्मा को दाहोद का डीएम बनया गया है. जबकि शालिनी अग्रवाल को तापी की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

इसी तरह पुलिस अधिकारियों में विकास साही को अहमदाबाद बुलाया गया है. जामनगर के एसपी की जिम्मेदारी हिमांशु शुक्ला के सपुर्द की गई है. जबकि सारा रिजवी पाटन के एसपी बनाये गये हैं और एसएस अहलूवालिया सूरत सिटी के डीसीपी मुकर्रर किये गये हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*