छात्रों के करियर को तमाशा बना रखा है बिहार विद्यालय समिति ने

इन दिनों सैकड़ों छात्र बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की लापरवाहियों के शिकार हैं और वे समिति के बाबुओं के आगे करियर बचाने की गुहार लगा रहे हैं.

यह है पंकज की मार्कशीट, आगे खाली और पीछे अंक का विविरण

यह है पंकज की मार्कशीट, आगे खाली और पीछे अंक का विविरण

अनूप नारायण सिंह

परीक्षा समिति द्वारा प्रमाणपत्र में पीछे प्रिंट कर ओरिजनल सर्टीफिकेट छात्रों को दिया गया है. जिधर प्रिंट होना चाहिये उधर खाली छोड़ दिया गया है. समिति की इस लापरवाही के सैकड़ों छात्र शिकार हैं. इनमें से एक पंकज भी है. पंकज कुमार ठाकुर ,पिता लोकनाथ ठाकुर औरंगाबाद का रहने वाला है. २०१४ में उसने इण्टर(विज्ञानं )संकाय की परीक्षा द्वितीय श्रेणी से उत्तीर्ण की है.

जब से उसे ओरिजनल मार्कशीट मिला है उसके होश उड़े हुए है. मार्कशीट के आगे सब खाली है और पीछे की तरफ प्रिंट है किया हुआ है. पिछले कई महीनों से पटना परीक्षा समिती के कार्यालय का चक्कर काट रहा है पर कोई सुनवाई नहीं. पंकज को बिहार के बाहर एडमिशन तक नही मिल पा रहा है.पंकज इंजीनियरिंग में एडमिशन लेना चाहता है.

उसने बताया की पिछले छह माह से उसने प्रमाणपत्र सुधरवाने के लिये कई बार चलन कटवाया. फिर एक बार नया मार्कशीट निर्गत किया गया. दुबारा भी उसे उल्टा प्रिंट वाला ही प्रमाणपत्र मिला है. औरंगाबाद के जिस के के मंडल कॉलेज, दाउदनगर के वह छात्र था वहां के दर्ज़नो छात्रों के प्रमाण पत्र के साथ ऐसा ही खिलवाड़ किया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*