फिर गरमाया श्याम रजक के विभाग में नौकरशाही का विवाद

खाद्य एंव आपूर्ति मंत्री श्याम रजक के महकमे में नौकरशाहों पर जारी विवाद खत्म होने के बजाये और बढ़ गया है. पढ़ें क्या है नया मामला.shyam.rajak_ अमृता कुमारी की रिपोर्ट खाद्य एंव आपूर्ति मंत्री और बिहार राज्य खाद्य आपूर्ति निगम यानी बीएसएफसी के प्रबंध निदेशक अरविंद चौधरी के बीच उठे विवाद को तो राज्य सरकार ने अरविंद चौधरी को हटा कर खत्म कर दिया. पर इस मामले में नया तकनीकी अड़चन तब आ गया जब निगम के उपप्रबंध निदेशक संजय कुमार ने नये प्रबंध निदेशक के पद पर अपने से जूनियर अधिकारी को बिठाने पर कड़ा विरो जताते हुए राज्य सरकार को पत्र लिख दिया है. यह भी पढ़ें- आईएएस के खिलाफ मंत्रिपद से इस्तीफे की धमकी दी श्याम रजक ने

ज्ञात हो कि संजय कुमार 1997 बैच के आईटीएस ऑफिसर हैं जबकि नये एमडी अरविंद कुमार उनसे तीन साल जूनियर आईएएस हैं. अरविंद कुमार पूर्णिया के डीएम रह चुके हैं. निगम के एमडी के रूप में अरविंद चौधरी के हटाये जाने से लेकर अरविंद कुमार को नया एमडी बनाये जाने तक यह आशंका पहले से ही जतायी जा रही ती कि इस नियुक्ति का जोरदार मुखालफत संजय कुमार की तरफ से किया जायेगा. यू बढ़ा विवाद संजय कुमार ने इस मामले में सामान्य प्रशासन विभाग को पत्र लिखकर कहा है कि वह अपने से जूनियर बैच के ऑफिसर के मातहत काम नहीं कर सकते. वहीं संजय ने अपने मातृ विभाग आईटीएस को भी एक पत्र लिखा है जिसमें आग्रह किया गया है कि उन्हें वहां बुला लिया जाये. खाद्य आपूर्ति मंत्री श्याम रजक का अपने निवर्तमान एमडी अरविंद चौधरी से पटरी नहीं बैठ रही ती. इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री पर दबाव बनाया कि उन्हें हटा दिया जाये. इसके बाद चार दिन पहले ही राज्य सरकार ने बिहार राज्य खाद्य आपूर्ति निगम यानी बीएसएफएससी के प्रबंध निदेशक अरविंद चौधरी को पद से हटा दिया. वह महज सवा दो महीने ही इस पद पर रहे. इसी आनन फानन में उनकी जगह एक ऐसे ऑफिसर को निगम का एमडी बना दिया जो संजय कुमार से दो बैच जूनियर हैं. नौकरशाही से जुड़ी कोई भी खबर आप हमें- news@naukarshahi.com पर भेज सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*