बिल्डिंग बायलॉज: भवनों की ऊंचाई पर सरकार ने बांधे हाथ  

नेशनल बिल्‍डर्स एसोसिएशन के अध्‍यक्ष अनिल कुमार ने कहा है कि भवन निर्माण की ऊंचाई को सीमित कर बिल्‍डरों के हाथ बांध दिए गए हैं। पटना में पत्रकारों से चर्चा में उन्‍होंने कहा कि सरकार से इस संबंध में छूट दे, ताकि निर्माण कार्य में अनावश्‍यक बाधा नहीं आए। उन्‍होंने सिंग्‍ल विंडो सिस्‍टम की चर्चा करते हुए कहा कि इसकी कार्यप्रक्रिया में पारदर्शिता व कार्यों के निष्‍पादन की समय सीमा तय की जानी चाहिए।nba

 

श्री कुमार ने कहा कि बायलॉज में पटना को दो जोन में बांट दिया है, लेकिन जोन का स्‍पष्‍ट निर्धारण नहीं किया गया है। उन्‍होंने कहा कि सरकार को जोन का स्‍पष्‍ट निर्धारण करना चाहिए, ताकि निर्माण में अनावश्‍यक विलंब नहीं हो।  श्री कुमार ने 17 सौ बिल्डिंगों के निर्माण पर लगी रोक हटाने व निर्माण की अनुमति देने की मांग भी की। उन्‍होंने कहा कि संघ नया पटना के विकास के लिए तैयार है और इस काम में सरकार का पूरा सहयोग करेगा। साथ ही सरकार को भी उन नये क्षेत्रों में आधारभूत संरचनाओं यथा सड़क, बिजली, सिवरेज सिस्‍टम के विकास की व्‍यवस्‍था करनी चाहिए।

 

नेशनल बिल्‍डर्स एसोसिएशन के अध्‍यक्ष ने बायलॉज की समीक्षा और संशोधन के लिए गठित होने वाली रिव्‍यू कमेटी का स्‍वागत करते हुए कहा कि कमेटी को भी नगर विकास के सभी पक्षों का अध्‍ययन करना चाहिए और फिर अपनी अनुशंसा सरकार को भेजनी चाहिए। इस मौके पर संघ के निदेशक एसबी सिन्‍हा व कार्यकारिणी सदस्‍य गिरधर कुमार भी मौजूद थे। इन लोगों ने भी बिल्डिंग बायलॉज से जुड़ी कई खामियों की ओर सरकार का ध्‍यान आकृष्‍ट किया और इसमें सरकार से अपेक्षित सुधार की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*