ये है पटना मेरी जान…!

इस तस्वीर को देखकर आप चौक रहे रहे होंगे कि हम कहा आ गए. आप कहीं किसी झील के किनारे नहीं है बल्कि पटना शहर रेलवे जंक्शन का भीड़ा भरा इलाका जो जान है पटना की.patna1.

जिसकी पहचान है पटना हनुमान मंदिर. पत्रकार चंद्र भूषण इस बारिश से उत्पन्न हालात का जायजा लेने पटना जंक्शन पहुंचे जहां हनुमान मंदिर भी स्थित है. इस क्षेत्र में प्रतिदन 20 हजार से ज्यादा श्रद्धालू दर्शन को आते हैं और लगभग इतने ही लोग रेल से सफर करने के क्रम में यहां आते हैं.

आप जानते है क्यों? क्यों राजधानी पटना में लगभग 18 घंटो से लगातार बारिश हो रही है. जिसका नजारा है यह जलमग्न पटना. इधर मौसम विभाग के एक सूत्र का कहना है कि पिछले दस वर्षों में पटना में मॉनसून से पहले की कभी इतनी बारिश नहीं हुई.

भले ही मॉनसून पूर्व बारिश ने एक रिकार्ड बनाया हो पर सच्चाई यह है कि पटना के कई इलाके हलकी बारिश से इसी तरह जलमग्न हो जाते हैं. जो नगरनिगम की व्यवस्था की पोल खोलते हैं. अब तक जितने भी मंत्री और निगम आयुक्त आये उन्होंने मीडिया के सामने तो बयां देकर बयान बहादुर बन गए लेकिन जमीनी हकीकत बिलकुल उलट है.

रात से हो रही बारिश ने जन-जीवन अस्त व्यस्त कर दिया है. बारिश के कारण बिजली ने भी पटनाइट्स को रुला दिया है.

पटना के अन्य हिस्से की तो बात छोड़ दीजिये उपमुख्यमंत्री सुशिल मोदी के इलाका राज्नेद्र नगर में सुबह6 बजे यानि की पीछे १२ घटो से बिजली नहीं है. ऐसा लगता है मोदी भी पटना से बहार है तो कोई देखने वाला भी नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*