प्रियंका गांधी की राजनीति में इंट्री पर सुमो ने कहा – होगा भाजपा को फायदा, विनोद नारायण झा ने बताया नौसीखिया

प्रिंयका गांधी वाड्रा की इंट्री सक्रिय राजनीति में बुधवार को हो चुकी है, जिसके बाद देश भर में प्रतिक्रियाओं का दौर चल रहा है। प्रियंका की इंट्री को राजनीतिक जानकार भाजपा के लिए परेशानी बता रहा हैं, मगर बिहार भाजपा के नेताओं की राय इस मामले में काफी अलग है।

Sushil Kr Modi

नौकरशाही डेस्‍क

प्रियंका के आने से भापजा को होगा फायदा

बिहार भाजपा के कद्दावर नेता और उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने प्रियंका गांधी की राजनीति इंट्री भाजपा के लिए फायदेमंद लगती है। यही वजह है कि आज जब पटना में पत्रकारों ने उनसे इस बा‍बत पूछा तो उन्‍होंने साफ तौर पर कहा कि प्रियंका की राजनीति में आने का वे स्‍वागत करते हैं।

Read This : राजद नेता समेत 5 हत्‍याओं से दहला बिहार, लालू – तेजस्‍वी नीतीश सरकार पर बोला हमला

उन्‍होंने कहा – ‘कांग्रेस ने सपा प्रिन्टर बसपा को डराने के लिए प्रियंका को लाया। प्रियंका के आने से भाजपा को फायदा होगा। प्रियंका के राजनीति में आने का हम स्वागत करते हैं। हालांकि सुमो ने प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा पर लगे भ्रष्‍टाचार के आरोपों की ओर इशारा कर बता दिया कि उनकी राहे आसान नहीं होने वाली हैं।

प्रियंका अभी नौसीखिया

वहीं, बिहार भाजपा के एक और बड़े नेता व बिहार सरकार के मंत्री विनोद नारायण झा ने प्रियंका गांधी नौसीखिया बताया। उन्‍होंने अपने बयान में कहा कि प्रियंका गांधी अभी नौसीखिया हैं। उनको राजनीति की जानकारी नहीं है। झा ने उन पर एक विवादित टिप्‍पणी भी कर दी। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस गलतफहमी में है। सुंदर चेहरे पर वोट नहीं मिलता है। सुंदर चेहरा दिखावा के लिए होता है, वोट के लिए नहीं।

See This 

23 जनवरी को कांग्रेस ने प्रियंका को बनाया महासचिव

आपको बता दें कि 23 जनवरी से पहले प्रियंका गांधी राजनीति में सक्रिय नहीं थी। कांग्रेस अब तक उनका इस्‍तेमाल स्‍टार प्रचारक के रूप में करती थी, लेकिन वे पार्टी में किसी पद पर नहीं थी। वे अपनी मां सोनिया गांधी के लिए राय बरेली और भाई राहुल गांधी के लिए अमेठी में सक्रिय होकर चुनाव प्रचार में नजर आती रहीं थी।

Read This : प्रियंका गांधी की हुई राजनीति में ऑफिसियल इंट्री, बनाई गईं कांग्रेस की महासचिव

मगर बुधवार को कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने उन्‍हें पार्टी के अंदर एक अहम जिम्‍मेवारी देते हुए महासचिव के पद पर नियुक्‍त किया। साथ ही पूर्वांचल का प्रभार भी दिया। ध्‍यान रहे पूर्वांचल वही इलाका है, जहां भाजपा की पकड़ काफी ज्‍यादा है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि राहुल गांधी की नजर पूर्वांचल में भाजपा के गढ़ में सेंध मारी की है। इसलिए लोकसभा चुनाव से ठीक पहले उन्‍होंने बहन प्रियंका को एक्टिव पॉलिटिक्‍स में इंट्री करा दी है।

See This : 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*