शूटिंग के दौरान इमामबाड़ा में हुई कुव्यवस्था के लिए डीएम-एसपी पर हो एफआईआर

लखनऊ के बड़े इमामबाड़े में फिल्म की शूटिंग की अनुमति देने पर कड़ी नाराजगी का इजहार करते हुए मजलिस ए उलमाये हिन्द के महासचिव इमामे जूमा मौलाना सैयद कल्बे जवाद नकवी ने कहा कि पूरे दिन इमामबाड़े के सामने फिल्म का सेट लगा रहा, लाईटिंग की व्यवस्था होती रही और फिल्म की शूटिंग की तैयारियां की जाती रहीं क्या इसकी खबर किसी को नहीं थी।imambara.lucknow

परवेज आलम, लखनऊ

मौलाना ने कहा कि जिस समय रोजा खोलने के बाद वो मौके पर पहुंचे तब इमामबाड़े की सारी बत्तियाॅ बुझी हुई थीं, इसलिए शूटिंग की अनुमति सोची समझी साजिश के तहत दी गई। पुलिस प्रशासन और डी0एम0 ने पब्लिक को उग्र और उत्साहित कया था इसलिए उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज हो।

मौलाना ने कहा कि इमामबाड़े की पवित्रता के उल्लंघन के मुद्दे पर और धार्मिक स्थलों पर फिल्म की शूटिंग के लिए ट्रस्ट प्रशासन, ड0ीएम0 और पुलिस प्रशासन पर एफआईआर होना चाहिए है ।<a target=”_blank” href=”https://www.amazon.in/ref=as_li_ss_tl?_encoding=UTF8&camp=3626&creative=24822&linkCode=ur2&tag=httpnaukacom-21″>Name Your Link</a><img src=”https://ir-in.amazon-adsystem.com/e/ir?t=httpnaukacom-21&l=ur2&o=31″ width=”1″ height=”1″ border=”0″ alt=”” style=”border:none !important; margin:0px !important;” />

मौलाना ने आगे अपने बयान मै कहा कि छोटे इमामबाड़े के अंदर मोजूद 200 साल पुराने बहुमूल्य और मजबूत खम्भों को काट दिया गया, वह खम्भे अभी भी वहां देखे जा सकते हैं कि कितने मजबूत हैं ,इसके खिलाफ एफआईआर कराई जाएगी। मौलाना ने कहा कि सौंदर्यीकरण के नाम पर इमाम बाड़ों के मूल रूप को बदला जा रहा है और धार्मिक स्थलों को मनोरंजन स्थल बनाने की साजिश की जा रही है।

 

इस साजिश को किसी भी हाल में सफल नहीं होने दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*