सीसीटीवी कैमरे की निगाह में रहेंगे स्‍ट्रांग रूम

चुनाव आयोग ने बिहार में सितंबर में होने वाले चुनाव को देखते हुए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की सुरक्षा के कड़े उपाय बरतने, स्ट्रांग रूम में सीसीटीवी कैमरे लगाने और मतदान कक्ष में वोटिंग मशीन के चारों तरफ सुरक्षित घेराबंदी करने का निर्देश दिया है। election

 

 

निर्वाचन आयोग ने बिहार के सीइओ को लिखा पत्र

आयोग ने बिहार के मुख्य निर्वाचन को भेजे पत्र में कहा है कि स्ट्रांग रूम में रखी जाने वाली वोटिंग मशीन की कड़ी सुरक्षा की जाये और उस रूम में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाएं तथा यह भी सुनिश्चित किया जाये कि स्ट्रांग रूम से मतदान कक्ष तक ये ईवीएम सुरक्षित पहुंचे। पत्र में कहा गया है कि स्ट्रांग रूम में रखी मशीनों की चौबीसों घंटे पर्याप्त रूप से निगरानी की जाये तथा प्रशिक्षण के लिए प्रयुक्त किए जाने वाली मशीन को उसी परिसर में अलग स्ट्रांग रूम में रखा जाये। स्ट्रांग रूम को सीलबंद करते समय राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि भी वहां मौजूद रह सकते हैं और वे अपनी ओर से भी सील लगा सकते हैं। इसके लिए राष्ट्रीय एवं प्रादेशिक स्तर की मान्यता प्राप्त पार्टियों को लिखित रूप में अग्रिम सूचना दी जाये।
 

आयोग ने कहा है कि मतदान के समय ईवीएम जहां रखी गयी हों, उस परिसर में किसी मंत्री, अधिकारी या राजनीतिक दल के पदाधिकारियों के वाहनों को प्रवेश की अनुमति नहीं होनी चाहिए तथा परिसर से बाहर, जहां उनके वाहन खड़े हों, उस इलाके की पहचान की जानी चाहिए तथा उस स्थान से सभी को पैदल ही परिसर में जाने की अनुमति हो। आयोग ने कहा कि स्ट्रांग रूम के लिए 24 घंटों बिजली की व्यवस्था होनी चाहिए ताकि वीडियोग्राफी होती रहे। बिजली न होने पर जेनरेटर की व्यवस्था सुनिश्चित हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*