14 दलों के सांसद किसान संसद में, मोदी पर अविश्वास प्रस्ताव

14 दलों के सांसद किसान संसद में, मोदी पर अविश्वास प्रस्ताव

संसदीय इतिहास में आज पहली बार 14 दलों के सांसद एक साथ किसान संसद में पहुंचे। मंच पर नहीं, नीचे बैठे। किसानों ने मोदी के खिलाफ पेश किया अविश्वास प्रस्ताव।

आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस, राजद, टीएमसी, सपा सहित 14 दलों के सांसद दिल्ली में किसानों की समानांतर संसद में पहुंचे और तीन कृषि कानूनों के खिलाफ संघर्ष का समर्थन किया। सांसद मंच पर नहीं गए। वे सामने कुर्सियों पर बैठे। मंच पर किसानों ने मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया। इस प्रस्ताव के पक्ष में देर तक किसान अपनी बात कहते रहे। अंत में किसानों ने मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित किया।

इससे पहले संसद के भीतर और बाहर पेगासस, महंगाई और किसान आंदोलन के समर्थन में सारे दल एक साथ ताकत दिखाते रहे हैं। आज के कार्यक्रम में सिर्फ बसपा शामिल नहीं थी। बसपा को छोड़कर देश के सारे भाजपा विरोधी दल के सांसद किसानों के बीच पहुंचे।

बाद में राहुल गांधी ने एक कविता पोस्ट की, जो इस प्रकार है-

चूल्‍हा मिट्टी का

मिट्टी तालाब की

तालाब ‘हमारे दो’ का।

बैल ‘हमारे दो’ का

हल ‘हमारे दो’ का

हल की मूठ पर हथेली किसान की

फ़सल ‘हमारे दो’ की।

कुआं ‘हमारे दो’ का

पानी ‘हमारे दो’ का

खेत-खलिहान ‘हमारे दो’ के

PM ‘हमारे दो’ के

फिर किसान का क्‍या?

किसान के लिए हम हैं!

इधर, राजद ने ट्वीट किया-राजद सांसद डॉ मनोज झा जी समेत आज प्रमुख 14 विपक्षी राजनीतिक दलों के नेताओं ने जंतर मंतर पर किसान संसद में शामिल होकर किसानों की लड़ाई को अपना सहयोग तथा समर्थन का अटूट निश्चय दोहराया। किसान संसद में किसानों ने मोदी सरकार के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव पारित किया।

OBC गणना पर सौदेबाजी,मायावती यूपी में भाजपा का करेंगी समर्थन

14 दलों के सांसदों के किसान संसद पहुंचते ही ट्विटर पर #जीतेगा_किसान ट्रेंड करने लगा। किसान संसद के बाद किसान नेताओं का अब पूरा जोर यूपी पर होगा।

राजीव खेल रत्न का नाम बदला, कांग्रेस, राजद ने ऐसे घेरा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*