बिहार में फिर क्वारेंटाइन सेंटर की तैयारी, कर्मियों की छुट्टी रद्द

बिहार में फिर क्वारेंटाइन सेंटर की तैयारी, कर्मियों की छुट्टी रद्द

बिहार में आज 1080 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। सरकार ने स्वास्थ्यकर्मियों की चुट्टी रद्द कर दी है। मुख्यमंत्री ने फिर क्वारेंटाइन सेंटर बनाने का निर्दंश दिया।

आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोविड को लेकर समीक्षा बैठक की। उन्होंने कहा कि दूसरे प्रदेशों में जिस तरह तेजी से कोरोना फैल रहा है, उससे अन्य प्रदेशों में काम करनेवाले बिहार के लोग वापस आ सकते हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री ने सभी प्रखंडों में क्वारेंटाइन सेंटर बनाने की तैयारी का निर्देश दिया।

मालूम हो कि दिल्ली, महाराष्ट्र सहित कई प्रदेशों में रात के कर्फ्यू की घोषणा कर दी गई है। प्रवासी मजदूर जहां काम करते हैं, वहां उन्हें अपने प्रदेश लौट जाने को कहा जा रहा है। ऐसे में एक बार फिर बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर बिहार लौट सकते हैं।

भाजपा विधायक ने कराया मधुबनी जनसंहार : राजद

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज अधिकारियों के साथ बैठक में मास्क पहनने, कोरोना टेस्ट कराने और साथ ही अधिक से अधिक टीकाकरण करने पर जोर दिया।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना की नई लहर को ध्यान में रखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग को अलर्ट रहने का निर्देश दिया।

बिहार में कोरोना के सबसे अधिक मरीज पटना, जहानाबाद, भागलपुर, गया, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सीवान और सारण में मिल रहे हैं। इन जिलों में कोरोना की गाइडलाइन को अच्छी तरह लागू करने के संबंध में विशेष चर्चा हुई।

इस बीच लोगों में इस बात को लोकर चिंता बढ़ गई है कि कहीं फिर से लाकडाउन न लग जाए। आज पटटना सिटी में प्राइवेट स्कूलों के टीचर्स और कर्मियों ने सड़क किनारे खड़े होकर प्रदर्शन किया। उनका कहना था कि कोरोना के बावजूद कई राज्यों में चुनाव हो रहे हैं, बिहार में भी चुनाव हआ, फिर स्कूल-कॉलेज को क्यों बंद किया जा रहा है। कल रोहतास और बेतिया में छात्रों ने कोविड के नाम पर कोचिंग बंद करने के खिलाफ प्रदर्शन किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*