शी जिनपिंग के जन्मदिन पर गलवान में हमला, मोदी के जन्मदिन पर क्या होगा ?

बड़ी खबर यह आ रही है कि भारत- चीन के बीच लगातार बिगड़ते हालात के बीच मोदी सरकार ने आज सर्वदलीय बैठक बुलाई है. आज शाम शाम 5 बजे से यह बैठक जारी है.

शाहबाज़ की विशेष रिपोर्ट

15 जून 2020 को चीनी सेना ने लद्दाख के गलवान घाटी में भारतीय जवानो पर लाठी और भालों से हमला कर दिया था जिसमे भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे. 15 जून को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) का जन्मदिन था. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन 17 सितम्बर को है.

LAC (Line of Actual Control ) भारत-चीन के बीच तनाव गंभीर बना हुआ है. चीन अब लद्दाख के साथ ही अरुणाचल सेक्टर में भी सेना और हथियारों की तैनाती बढ़ाने में लगा है. आशंका जताई जा रही है कि लद्दाख में भारतीय सेना के हौसले देखकर चीन अब दूसरे मोर्चे (Arunachal Pradesh) में अपनी गतिविधियां बढ़ा रहा है.

भारतीय सेना के उत्तरी कमांड ने कहा है कि सेना चीन के साथ पूर्ण रूप से युद्ध के लिए तैयार है. भारतीय और चीनी सेना के बीच बढ़ते तनाव, LAC पर बलप्रयोग और रक्षा मंत्री द्वारा भारत की 38000 SqKm भूमि पर चीनी कब्ज़े की बात स्वीकार करने के बाद से निकट भविष्य में युद्ध की सम्भावना और बढ़ गयी है.

रक्षा मंत्री ने माना चीन ने 38000 SqKm ज़मीन पर किया कब्जा

रक्षा जानकारों के मुताबिक अभी LAC पर जो स्थिति बनी हुई है उसमे कभी भी कुछ भी हो सकता है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को लोक सभा में चीन द्वारा भारत की 38000 SqKm भूमि पर कब्ज़ा करने की बात स्वीकार करने के बाद बता दें की भारत-चीन के बीच सिर्फ सैनिक तनाव नहीं बल्कि राजनीतिक तनाव भी बढ़ गया है. कल भारत के रक्षा मंत्री ने ऐलान किया कि हमारी सेना हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है वही आज भारतीय सेना ने भी कह दिया है कि वह युद्ध के लिए पूर्ण रूप से तैयार है.

कांग्रेस नेता राहुल गाँधी लगातार भारत की ज़मीन पर चीनी कब्ज़े पर सवाल उठाते रहे है. आज उन्होंने अपने ट्वीट में कहा क्रोनोलॉजी समझिये। पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोई सीमा में नहीं घुसा फिर चीन-स्थित बैंक से भारी क़र्ज़ा लिया, फिर रक्षामंत्री ने कहा चीन ने देश में अतिक्रमण किया अब गृह राज्य मंत्री ने कहा अतिक्रमण नहीं हुआ. मोदी सरकार भारतीय सेना के साथ है या चीन के साथ?

भारतीय सेना के उत्तरी कमांड (Northern Command) के प्रवक्ता ने कहा कि भारतीय सेना न सिर्फ चीन के साथ पूर्ण युद्ध के लिए तैयार बल्कि सर्दी के मौसम में भी लदाख में पूर्ण जंग लड़ने में सक्षम है. एक स्टेटमेंट में सेना के उत्तरी कमांड ने कहा कि अगर चीनी सेना ने युद्ध की स्थिति बनायीं तो उनका सामना भारत के अनुभवी और प्रक्षिशित भारतीय जवानो से होगा। चीनी सेना मुख्यतः शहरी क्षेत्रों से आती है और उन्हें बहुत ऊंचाई वाली जगह पर ज़्यादा टिक नहीं सकती।

हिंदुस्तान का पीएम झूठा है और झूठा व्यक्ति मेरी आंखों से आंख नहीं मिला सकता

कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने केंद्र सरकार पर चीनी अतिक्रमण पर देश को गुमराह करते हुए आरोप लगाया कि रक्षामंत्री के बयान से साफ़ है कि मोदी जी ने देश को चीनी अतिक्रमण पर गुमराह किया। हमारा देश हमेशा से भारतीय सेना के साथ खड़ा था, है और रहेगा”. आगे उन्होंने प्रधानमंत्री से पूछा कि चीन से हमारे देश की ज़मीन कब वापस लेंगे?

उन्होंने आज अपने ट्वीट में कहा कि पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोई सीमा में नहीं घुसा फिर चीन-स्थित बैंक से भारी क़र्ज़ा लिया, फिर रक्षामंत्री ने कहा चीन ने देश में अतिक्रमण किया अब गृह राज्य मंत्री ने कहा अतिक्रमण नहीं हुआ. मोदी सरकार भारतीय सेना के साथ है या चीन के साथ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*