DGP Gupteshwar Panday ने चलाई ताबड़तोड़ गोली, एक भी निशाने पर नहीं

DGP Gupteshwar Panday ने चलाई ताबड़तोड़ गोली, एक भी निशाने पर नहीं

 

DGP Gupteshwar Panday ने ताबड़तोड़ फाइरिंग की लेकिन एक भी निशाने पर नहीं लगी. रोहतास में DGP ने शूटिंग रेंज में इंसास रायफल से फाइरिंग की.

DGP Gupteshwar Panday

DGP Gupteshwar Panday ने ताबड़तोड़ फाइरिंग की लेकिन एक भी निशाने पर नहीं लगी. रोहतास में DGP Gupteshwar Panday ने शूटिंग रेंज में इंसास रायफल से फाइरिंग की.

 

दीपक कुमार ठाकुर,(बिहार ब्यूरो चीफ)

पटना: अब जब किसी प्रदेश के DGP Gupteshwar Panday गोली चलायें और निशाना चूक जाए वो भी एक बार नहीं बल्कि कई बार तो क्या कहिएगा. क्योंकि ऐसा ही कुछ हुआ है बिहार डीजीपी के साथ जो रोहतास के डिहरी पहुंचे थे. जहां DGP ने शूटिंग रेंज में इंसास राइफल से एक, दो, तीन ही नहीं कुल पांच राउड गोलियां दागीं लेकिन उनकी सारी गोलियां निशाने पर नहीं लगीं

फायरिंग रेंज में गोलियां दाग रहे थे डीजीपी

दरअसल बिहार के पुलिस मुखिया यानी डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय हमेशा से सुर्खियों में रहते हैं. इस बार भी उनका एक वीडियो सुर्खियों में है जिसमें वो ताबड़तोड़ गोलियां दागते दिख रहे हैं. तस्वीर बिहार के डिहरी की है जहां DGP फायरिंग रेंज में गोलियां दागते दिख रहे हैं

DGP Gupteshwar Panday और इंसास राइफल

DGP ने इंसास राइफल से एक, दो, तीन ही नहीं कुल पांच राउड गोलियां दागीं लेकिन उनकी सारी गोलियां निशाने पर नहीं लगीं. दरअसल इसी महीने की 10 फरवरी से रोहतास के डेहरी में ‘ऑल इंडिया पुलिस शूटिंग कंपटीशन’ होने वाला है. इस कंपटीशन की तैयारी का जायजा लेने खुद डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय सेंटर पर पहुंचे हुए थे. उन्होंने फायरिंग रेंज का निरीक्षण किया और बाद में खुद राइफल से निशाना लगाया

————————————————

Crime आउट ऑफ कंट्रोल, फिर हत्या, DGP बोले सिर्फ पुलिस के बस की बात नहीं

—————————————————–

तमाम बड़े अधिकारी भी थे मौजूद

इस दौरान बिहार पुलिस के तमाम बड़े अधिकारी भी मौजूद थे. बता दें कि 1 फरवरी से 15 फरवरी तक होना है ऑल इंडिया पुलिस शूटिंग कंपटीशन है. तो वही डिहरी के BMP-2 में राष्ट्रीय स्तर का कंपटीशन आयोजित किया जाना है. इसमें देश के 30 से अधिक पुलिस टीमें भाग लेंगी जिसमें देश के सभी राज्यों के अलावे सीआरपीएफ की भी टीमें भाग लेंगी.

इस कंपटीशन में कई प्रकार की पुलिस स्पर्धा भी होंगे. आईजी हेडक्वार्टर कमल किशोर ने बताया कि बिहार में पहली बार इस तरह के पुलिस स्पर्धा का आयोजन किया गया है. इस छह दिवसीय स्पर्धा के दौरान पूरे देश के पुलिस की निगाह डेहरी पर रहेगी. तैयारी का जायजा लेने के दौरान डीजीपी ने खुद फायरिंग कर इसकी शुरुआत की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*