हाय रे बिहार, नीतीश और मोदी ने सकीबुल को बधाई तक न दी

हाय रे बिहार, नीतीश और मोदी ने सकीबुल को बधाई तक न दी

नीतीश कुमार हर भाषण की शुरुआत अतीत के गौरवगान से करते हैं, लेकिन वर्तमान की इतनी उपेक्षा! पुरस्कार देना तो दूर उन्होंने सकीबुल को बधाई तक न दी।

कुमार अनिल

क्या कोई समाज, कोई प्रदेश अपनी उपलब्धियों का सम्मान किए बगैर आगे बढ़ने के बारे में सोच सकता है? बिहार के युवा क्रिकेटर सकीबुल गनी ने पहले ही रणजी मुकाबले में विश्व रिकार्ड बना दिया, लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पुरस्कृत करने की घोषणा तो दूर, बधाई के दो शब्द भी नहीं कहे।

यही हाल पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी का है। वे बात-बात पर ट्वीट करते हैं, लेकिन बिहार के युवा ने बिहार का सिर ऊंचा किया, पर वह भी छोटे दिल वाले ही साबित हुए। सुशील मोदी ने आज किसी की शादी में उपस्थित होकर बधाई दी। ट्वीट भी किया, लेकिन सकीबुल के लिए दो शब्द भी ट्वीट नहीं किया।

बिहार के सत्तारूढ़ दल जदयू और भाजपा के ट्विटर हैंडल भी इस मामले में बहुत ओछे साबित हुए। दोनों दलों के ट्विटर हैंडल भी खामोश हैं। ज्यादा दूर जाने की जरूरत नहीं। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को देखिए, अपने खिलाड़ियों की हर उपलब्धि पर खुद आगे कर शाबाशी देते हैं। सम्मानित करते हैं। आर्थिकरूप से सहयोग करते हैं। इससे खिलाड़ियों का मनोबल ऊंचा होता है और वे पहले से ज्यादा जी-जान लगाकर राज्य के लिए खेलते हैं।

हां, बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने जरूर सकीबुल गनी को उनकी उपलब्धि पर बधाई दी है। सराहना की है। उन्होंने अंग्रेजी में ट्वीट किया-बिहार के सकीबुल को बहुत बधाई, जिन्होंने अपने पहले ही प्रथम श्रेणी के मैच में तिहरा शतक लगाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया। मिजोरम के खिलाफ के खिलाफ रणजी मैच में #SakibulGani ने 405 गेंदों में 341 रन बनाए। बिहार के लिए ऐतिहासिक क्षण।

बिहार के Sakibul ने बनाया विश्व रिकार्ड, रणजी में तिहरा शतक

इस बीच सैयद सबा करीम ने सकीबुल गनी को बधाई दी है। कई खेल संघों और पूर्व खिलाड़ियों ने भी सकीबुल को बधाई दी है।

हद है : यूपी में भीड़ जुट नहीं रही, अमेरिका में योगी के लिए रैली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*