पटना में जन्‍मे जेपी नड्डा बने भाजपा के कार्यकारी अध्‍यक्ष

भाजपा ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री जगत प्रकाश नड्डा को पार्टी का राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष चुन लिया। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर फिलहाल गृह मंत्री अमित शाह ही रहेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में भाजपा संसदीय बोर्ड की श्री शाह की अध्यक्षता में यहां हुई बैठक में यह फैसला लिया गया।

बैठक में श्री राजनाथ सिंह, श्री नितिन गडकरी, श्रीमती सुषमा स्वराज, श्री थावरचंद गहलोत, भाजपा के संगठन महासचिव रामलाल, शिवराज सिंह चौहान सहित सभी सदस्य मौजूद थे। श्री नड्डा के कार्यकारी अध्यक्ष चुने जाने पर प्रधानमंत्री और पार्टी अध्यक्ष ने गुलदस्ता देकर उकना अभिनंदन किया। श्री गडकरी एवं श्रीमती स्वराज ने भी उनकाे बधाई दी। श्री नड्डा संसदीय बोर्ड और केंद्रीय चुनाव समिति के सचिव भी थे।

बाद में श्री राजनाथ सिंह ने पत्रकारों से कहा कि श्री शाह के नेतृत्व में भाजपा ने अनेक चुनाव जीते हैं। लेकिन प्रधानमंत्री ने उन्हें गृहमंत्री नियुक्त किया है, तो श्री अमित शाह ने स्वयं ही कहा कि पार्टी अध्यक्ष की जिम्मेदारी किसी अन्य को दे दी जाए। भाजपा संसदीय बोर्ड ने श्री जे पी नड्डा को कार्यकारी अध्यक्ष चुना है।
पटना में दो दिसंबर 1960 में जन्मे श्री जगत प्रकाश नड्डा ने बीए की परीक्षा पटना कॉलेज से उत्तीर्ण की थी और एलएलबी हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय से की। शुरु से ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े रहे श्री नड्डा पहली बार 1993 में हिमाचल प्रदेश में विधायक चुने गये। वह 1994 से 1998 तक विधानसभा में पार्टी के नेता भी रहे। उसके बाद वे राज्य और केंद्र में मंत्री भी रहे हैं। उनका विवाह 1991 में हुआ था और उनके दो पुत्र हैं।
श्री नड्डा 2012 में राज्यसभा के लिए चुने गये और 2014 नवंबर में मोदी मंत्रिमंडल में उन्हें स्वास्थ्य मंत्री बनाया गया। वर्ष 2019 के चुनाव के बाद श्री नड्डा को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किये जाने से उन्हें श्री शाह की जगह भाजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाये जाने के कयास लगाये जा रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*