भाजपा ने दलितों का जीवन पशुओं से भी बदतर बनाया : लालू यादव

भाजपा ने दलितों का जीवन पशुओं से भी बदतर बनाया : लालू यादव

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) ने हाथरस गैंगरेप पर भाजपा के खिलाफ बड़ा प्रहार किया है. उन्होंने कहा कि भाजपा ने दलितों की ज़िन्दगी को पशुओं से भी बदतर बना दिया है.

लालू ने हाल ही में हुए हाथरस गैंगरेप पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) को ज़िम्मेदार बताते हुए कहा कि “सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के आवरण तले दलितों को इंसान भी नहीं माना जा रहा। मासूम बेटियों के साथ सत्ता संरक्षित गुंडे अमानवीयता की पराकाष्ठा पार कर रहे है। भाजपाई सरकारों में दलितों, ग़रीबों, महिलाओं और उपेक्षितों का जीवन पशुओं से भी बदतर बना दिया गया है”।

तेजस्वी का यह मास्टर स्ट्रॉक NDA के होश उड़ाने वाला क्यों है

हाथरस में हुई हृदयविदारक घटना पर बिहार में भी राजनीति गरमा गयी है. बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने पार्टी के ट्विटर हैंडल पर कांग्रेस नेता राहुल गाँधी और महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा की गयी धक्कामुक्की (Manhandle ) पर कहा कि यह भाजपाई लोकतंत्र है! जिसमें लोक पाताल लोक में चला गया है और तन्त्र दमन और निरंकुशता का पर्याय बन चुका है! बच्चियों का बलात्कार कर मार दिया जा रहा है और पेट्रोल डाल जलाई जा रही लाशों के आगे ठिठिया कर राजा मोर नचा रहा है “!

राजद नेता तेजस्वी यादव ने आज कांग्रेस नेता राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी वाड्रा को हिरासत में लिए जाने पर ट्विटर पर जमकर आलोचना की. उन्होंने कहा कि दमनकारी शासन द्वारा सत्ता के हर अंधाधुंध दुरुपयोग का विरोध करना विपक्षी दलों का कर्तव्य और लोकतांत्रिक अधिकार है! लोगों की आवाज और इच्छा को चुप या दबाया नहीं जा सकता है! हम राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी की गिरफ्तारी की निंदा करते हैं”. बता दें कि राहुल-प्रियंका हाथरस सामूहिक बलात्कार पीड़ित के परिवारजन से मिलने उत्तर प्रदेश स्थित हाथरस जा रहे थे जहाँ पुलिस द्वारा ज़बरदस्त झड़प के बाद दोनों को हिरासत में ले लिया गया.

योगी की पुलिस ने राहुल-प्रियंका को धक्कामुक्की कर लिया हिरासत में

तेजस्वी ने हाथरस काण्ड पर भाजपा को आड़े हाथो लेते हुए कहा कि जघन्य हाथरस सामुहिक बलात्कार व हत्याकांड ने सरकार, पुलिस प्रशासन और न्याय व्यवस्था को कठघरे में खड़ा किया है। BJP ने अपने स्त्री व दलित विरोधी चरित्र को एक बार फिर रेखांकित किया है। देश समझ चुका है कि ‘बेटी बचाओ’ एक चेतावनी थी। बेटियों से अगर हो प्यार तो NDA का करो तिरस्कार”.

चुनाव को लेकर राजद में इतना आत्मविश्वास क्यों है ?

वही बिहार कांग्रेस ने भी इस घटना पर प्रतिक्रिया दी है. पार्टी ने ट्विटर हैंडल पर उत्तर प्रदेश में योगी सरकार पर तंज़ कस्ते हुए कहा कि “यूपी प्रशासन द्वारा विपक्षी नेताओं के आवाज को रोकने के लिए जितनी सख्ती की, उतनी तत्परता अगर कानून व्यवस्था को बहाल करने के लिए किया होता तो आज यूपी की बेटियां सुरक्षित होती”।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*