लीजिए, अब बाजार में आई एनडीटीवी पिचकारी, पसंद कर रहे लोग

लीजिए, अब बाजार में आई एनडीटीवी पिचकारी, पसंद कर रहे लोग

बाजार भी जनता का मूड भांपने का बड़ा जरिया है। अब किसान आंदोलन वाले राज्यों में पहली बार होली के अवसर पर एनडीटीवी पिचकारियां बिक रही हैं।

चुनाव में किस पार्टी का झंडा ज्यादा बिक रहा है, उससे पता चलता है कि किस पार्टी की हवा है, उसी तरह पर्व-त्योहारों में भी बाजार बहुत कुछ बता देते हैं।

आज एनडीटीवी ने यूट्यूब पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें हरियाणा के शहरों में एनडीटीवी पिचकारी बिक रही है। लोग इसे पसंद भी कर रहे हैं। वीडियो में दुकानदार बता रहे हैं कि सबसे ज्यादा मांग एनडीटीवी पिचकारी की है। लोग मांग कर यह पिचकारी खरीद रहे हैं।

गुजरात मॉडल : किसान नेता को प्रेस वार्ता से घसीट ले गई पुलिस

यहां एनडीटीवी पिचकारी खरीदनेवाली एक युवती से जब संवाददाता ने पूछा कि उसने एनडीटीवी पिचकारी ही क्यों खरीदी, तो युवती ने कहा कि यही एक टीवी चैनल है, जो किसानों की बात को, किसानों के आंदोलन को दिखा रहा है। वह कहती है कि दूसरे चैलन तो गोदी मीडिया हैं।

बिहार बंंद पिछले बंद से कैसे रहा अलग, जहानाबाद ने किया कमाल

दुकानदार और ग्राहक दोनों रवीश कुमार की सराहना कर रहे हैं। रवीश कुमार ने किसान आंदोलन पर लगातार कार्यक्रम किए हैं। इससे उनकी लोकप्रियता बढ़ी है।

उधर पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की तस्वीर वाली साड़ियां खूब बिक रही हैं। ऐसी साड़ियां भी बाजार में उपलब्ध हैं, जिनमें तृणमूल कांग्रेस के चुनाव चिह्न हैं। वहां के दुकानदारों का कहना है कि सबसे ज्यादा ममता बनर्जी की तस्वीर वाली साड़ियां बिक रही हैं।

अभी तक बिहार में नीतीश कुमार या तेजस्वी यादव पिचकारी बिकने की कोई सूचना नहीं मिली है। संभव है बाजार में ऐसी पिचकारी भी आ जाए, क्योंकि बाजार का नियम ही है कि जिसके बिकने की संभावना होगी, वह बाजार में आ जाएगी। अह देखना है होली से पहले बिहार के बाजार में क्या नया कुछ देखने को मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*