मोदी काल में देश के लिए अपमानित करनेवाला क्षण

मोदी काल में देश के लिए अपमानित करनेवाला क्षण

जब भी देश मुश्किल में होता है, तो प्रधानमंत्री मौन तप करने लगते हैं। अब गलवान घाटी में चीनी फौज ने लहराया अपना झंडा। देश के लिए अपमानित करनेवाला क्षण।

चीनी फौज ने गलवान घाटी में अपना झंडा लहराया। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर मौजूद है। इसे अबतक 15 लाख लोग देख चुके हैं। करोड़ों लोग इस खबर को पढ़ चुके हैं। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अबतक मौन हैं।

यह वही गलवान घाटी है, जहां 2020 में चीनी सैनिक घुस आए थे। तब प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि हमारी सीमा में न कोई घुसा था, न कोई घुसा है। बाद में यहीं भारत -चीन के सैनिकों के बीच झड़प हुई थी, जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हुए थे। तब प्रधानमंत्री की बहुत आलोचना हुई थी। अब इसी गलवान घाटी में चीनी सेना ने अपने देश का झंडा लहराया। इसी चीनी मीडिया ने जारी किया, जो बाद में भारत में भी वायरल हुआ। पहले की तरह एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने संवेदनशील मुद्दे पर मौन तप कर रहे हैं। भाजपा के सारे नेता हिंदू-मुसलमान करने में व्यस्त है और चीनी सैनिक घाटी में अपना झंडा फहरा रहे हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा-गलवान पर हमारा तिरंगा ही अच्छा लगता है। चीन को जवाब देना होगा। मोदी जी, चुप्पी तोड़ो! कांग्रेस के तमाम बड़े नेता लगातार चीनी झंडा फहराने पर प्रधानमंत्री से सवाल पूछ रहे हैं।

इस बार कांग्रेस ही नहीं देश के क्षेत्रीय दलों ने भी प्रधानमंत्री मोदी को घेरा है। राजद ने भी इस सवाल पर प्रधानमंत्री मोदी को घेरा। राजद ने चीनी मीडिया के वीडियो को शेयर करते हुए ट्वीट किया-अफ़सोस! उन तथाकथित ‘लाल आँखों’ में फिर भी शर्म नहीं! “ना तो कोई घुसा है, ना ही कोई घुस आया है!!”

लेखिका और पत्रकार मृणाल पांडेय ने चीनी सैनिकों द्वारा झंडा फहराने पर पूछा कि अब भी चुप्पी क्यों, क्या जिन सैनिकों ने सीमा की रक्षा करते हुए जान दी, घायल हुए उनका अपमान नहीं हो रहा? क्या यह देश का अपमान नहीं है? अशोक स्वैन ने पूछा कि कहां हैं हिंदू राष्ट्रवादी?

गालीबाजों की लंका में एक राज्यपाल ने लगा दी आग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*