मोदी टैक्स के कारण महंगाई, हवाई चप्पल भी महंगी : कांग्रेस

मोदी टैक्स के कारण महंगाई, हवाई चप्पल भी महंगी : कांग्रेस

तीन कृषि कानून और बेरोजगारी के बाद पहली बार महंगाई बनी राष्ट्रीय मुद्दा। कांग्रेस ने पूछा अमेरिका में पेट्रोल पर 20 फीसदी, भारत में 260 फीसदी क्यों?

कुमार अनिल

आज तक सोशल मीडिया पर भाजपा का कब्जा माना जाता था, लेकिन आज कांग्रेस ने सोशल मीडिया पर महंगाई को नंबर एक मुद्दा बना दिया। कांग्रेस नेताओं ने एक तरफ तर्कों से भाजपा को घेरा, तो दूसरी तरफ भावनात्मक रूप से देश के मेहनतकश अवाम को जोड़ने की कोशिश की। कांग्रेस ने कहा, यह महंगाई जनता पर थोपी गई है। यह मोदी टैक्स के कारण पैदा हुई महंगाई है।

राहुल गांधी ने कहा-अंधी महंगाई तीन कारणों से असहनीय बनी। अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल के गिरते दाम, केंद्र सरकार द्वारा टैक्स के नाम पर डकैती और इस डकैती से 2-3 उद्योगपतियों का मुनाफा।

अमेरिकी संस्था बोली, निरंकुश हो रहा भारत, राजद की गंभीर टिप्पणी

प्रियंका गांधी ने ट्विट किया-महंगाई पर ये हैं भाजपा के बहाने- सर्दी के कारण दाम बढ़े, पिछली सरकार का दोष, कम लोग यात्रा करें, इसलिए ट्रेन का किराया बढ़ा, पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम पर हमारा नियंत्रण नहीं। प्रियंका ने इस बार मोदी सरकार नारे पर व्यंग्य करते हुए कहा- इस बार बहानों की बैछार।

कांग्रेस के अभियान #SpeakUpAgainstPriceRise पर बोलते हुए प्रवक्ता पवन खेड़ा ने तर्कों के साथ मोदी सरकार पर करारा हमला किया। कहा, मई, 2014 में जब मनमोहन सिंह की सरकार चुनाव हार गई, तब अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल 108 रुपए प्रति बैरल था और उस समय दिल्ली में पेट्रोल 71 रुपए प्रति लीटर था। आज अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल 54 रुपए प्रति बैरल है, तब पेट्रोल की कीमत 90 रुपए है।

हरियाणा में स्थानीय को 75 फीसदी आरक्षण को कहा विनाशकारी

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत आधी हो गई, पर पेट्रोल इतना महंगा क्यों? उन्होंने खुद ही जवाब भी दिया कि यह मोदी टैक्स के कारण है। अमेरिका में 20 प्रतिशत और भारत में 260 प्रतिशत टैक्स लिया जा रहा है। कहा मोदी टैक्स लगाकर सरकार ने अबतक 20 लाख करोड़ रुपए जनता के पॉकेट से हड़प लिये हैं।

शशि थरूर ने समाज के सबसे निचले व्यक्ति की बात करते हुए कहा कि डीजल के दाम बढ़ने से हवाई चप्पल तक के दाम बढ़ गए। खबर लिखे जाने तक कई लाख ट्विट हो चुके थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*