पवन वर्मा ने नीतीश से कहा देश को खतरनाक रास्ते पर ले जाने वाले BJP से नाता तोड़ें

पवन वर्मा ने नीतीश से कहा देश को खतरनाक रास्ते पर ले जाने वाले BJP से नाता तोड़ें

JDU के वरिष्ठ नेता पवन वर्मा ने बगावत का बिगुल फूक दिया है और कहा है कि CAA-NRC पर देश में गुस्सा है और भाजपा देश को खतरनाक रास्ते पर ले जा रही है.

पवन वर्मा ने एक पत्र लिख कर नीतीश कुमार से सफाई मांगी है और कहा है कि वह भाजपा से रिश्तों पर अपना रुख स्पष्ट करें.

वर्मा ने नीतीश को याद दिलाया है कि 2017 में नीतीश कुमार ने उनसे मुलाकात के दौरान कहा था कि भाजपा ने उन्हें अपमानित किया था.  उन्होंने चिट्ठी में नीतीश कुमार से साल 2017 के बाद हुई एक निजी बातचीत का भी जिक्र किया है. जिसमें उन्होंने दावा किया कि किस तरह से नीतीश कुमार ने बीजेपी को लेकर आशंका जताई थी. पवन कुमार ने लिखा, ‘आपने कहा था कि किस तरह से बीजेपी के वर्तमान नेतृत्व ने उन्हें अपमानित किया है और आपने कहा कि बीजेपी भारत को एक खतरनाक जगह लेकर जा रही है, संस्थानों को खत्म कर रही है. अब जरूरत है कि  किया जाए.

 

पवन वर्मा इतना ही नहीं रुके और उस गुप्त बातचीत को भी सार्वजनिक कर दिया है जिसमें, वर्मा के अनुसार पार्टी  ने एक लोकतांत्रिक, धर्मनिरपेक्ष ताकत का गठन के लिए पार्टी के एक वरिष्ठ नेता को यह जिम्मेदारी भी सौंपी गई थी उसका क्या हुआ’.

प्रशांत किशोर ने भी उठाया था सवाल

गौरतलब है कि पवन वर्मा के अलावा पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने भी बीजेपी के साथ रिश्तों पर तल्खी दिखा जा चुके हैं. उन्होंने भी नागरिकता कानून और एनसीआर को लेकर विरोध किया और यह भी कहा कि नीतीश कुमार ही बता सकते हैं कि इस नागरिकता कानून का समर्थन करने का फैसला क्यों लिया गया.

 

आपको बता दें कि  दिल्ली विधानसभा में जेडीयू का बीजेपी के साथ चुनावी गठबंधन है. पार्टी दो सीटों पर चुनाव लड़ रही है. उधर प्रशांत किशोर की संस्था दिल्ली चुनाव में केजरीवाल के लिए काम कर रही है.

काबिले जिक्र है कि पवन वर्मा एक नौकरशाह रहे हैं और उन्हें जदयू ने राज्यसभा में भेजा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*