RanaAyyub के खिलाफ गाली, धमकी पर कार्रवाई हो : UN

RanaAyyub के खिलाफ गाली, धमकी पर कार्रवाई हो : UN

पत्रकार RanaAyyub के खिलाफ गाली, धमकी रुक नहीं रही। अब UN GENEVA ने भारत से कहा, कार्रवाई हो। वाशिंगटन पोस्ट ने लिखा-भारत में स्वतंत्र प्रेस पर हमला।

भारत की अंतरराष्ट्रीय पत्रकार @RanaAyyub महिला अधिकार, मानवाधिकार, लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता के लिए लगातार आवाज उठाती हैं। अमेरिकी अखबारों में उनके आलेख बराबर छपते हैं। उनकी आवाज दबाने के लिए लगातार उन्हें धमकियां दी जाती हैं। अश्लील गाली-गलौज की जाती है। हाल में उनके खिलाफ 25 हजार गालियों-धमकियोंवाले ट्वीट किए गए। अब पहली बार यूएन जिनेवा ने राना अयूब के पक्ष में आवाज आवाज उठाई है।

यूएन जिनेवा ने ट्वीट किया- भारतीय पत्रकार राना अयूब के खिलाफ अनवरत स्त्री विरोधी मानसिकता के साथ और संकीर्णता भरे हमले किए जा रहे हैं। भारत इस मामले की गहराई से जांचकर कार्रवाई करे।

आज ही वाशिंगटन पोस्ट ने पूरे एक पन्ने में राना अयूब की तस्वीर प्रकाशित की है। तस्वीर के साथ लिखा है-भारत में स्वतंत्र प्रेस पर हमला। राना अयूब ने वाशिंगटन पोस्ट को इस समर्थन के लिए आभार जताया है। इसी के साथ देश-विदेश से राना अयूब के समर्थन में आवाज उठी है। उनके खिलाफ घृणाभरे गाली-गलौज, धमकियों के खिलाफ सोशल मीडिया में प्रबुद्ध लोग आवाज उठा रहे हैं।

ह्यूमनिस्ट आरिफ अयूब ने लिखा-यह मोदी सरकार की विरोध की आवाज कुचलने की नीति है। इससे पहले की बहुत देर हो जाए @UNGeneva@UNHumanRights को भारत में तेजी से फैल रहे नफरत के खिलाफ आगे आना चाहिए, जो भारत की धर्मनिरपेक्ष तथा लोकतांत्रिक मूल्यों को ध्वस्त कर रही है।

पत्रकार श्याम मीरा सिंह ने लिखा-आपके काम के लिए पहले से ही बहुत सम्मान था, लेकिन जिस दिन आपसे फ़ोन पर बात हुई उस दिन एक पत्रकार नहीं एक इंसान को सुना। इतने मेंटल ट्रॉमा और नफ़रत के बीच अपनी बातों के लिए खड़ा रहना हिम्मत की बात है। पर मैं मानता हूँ ये सरकार अभी बहुत कमजोर है आप जैसे पत्रकारों को झुकाने के लिए।

SaatRang : ताजमहल व टाटा अस्पताल तुलना कर फैला रहे नफरत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*