नफरत भड़काने वालों का पोषक Twitter के खिलाफ चला महाभियान #Muslim_Virodhi_Twitter हुआ टॉप ट्रेंड

Twitter पर आरोप लगते रहे हैं कि वह कुछ समुदायों के खिलाफ नफरत भड़काने वालों का समर्थन करता है. और नफरत भरे पोस्ट करने वालों के अकाउंट को इनाम के रूप में ब्लुटिक प्रदान करता है.

पिछले दिनों बहुजनों-मुसलमानों के खिलाफ घृणा फैलाने वाले हैशटैग के खिलाफ उसने कोई कार्रवाई नहीं की तो लोगों ने Twitter के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया. इस बीच यूजर्स ने Twitter के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया इसके बाद #Muslim-Virodhi-Twitter पर पिछले 12 घंटे में 34 हजार के करीब ट्विट किये जा चुके हैं.

 

यह भी पढ़ें  जब टॉप ट्रेंड कर गया मेरा पीएम चोर है

कबिले जिक्र है कि पिछले दिनों पैगम्बर मोहम्मद के खिलाफ ट्विटर परअभियान चलाया गया था. पैगम्बर के खिलाफ चले इस अभियान में शामिल लोगों के ट्विट को ट्विटर ने अपनी गाइड लाइन और कम्युनिटी स्टैंडर्ड के विपरीत नहीं माना और घृणा को बढ़ावा दिया जाता रहा. इसी तरह का एक हैशटैग #JaiBhim_JaiGobar चलाया गया जो बाबा साहब का अपमान था. जबकि बहुजन समाज के हजारों लोग जो सामाजिक न्याय और नाइंसाफी के खिलाफ मर्यादित भाषा में आवाज उठाते हैं उनके अकाउंट को ट्विटर समय समय पर ब्लाक या सस्पेंड करता रहता है.

यह भी पढ़ें- दिलीप मंडल का अकाउंट हुआ सस्पेंड तो #RestoreDilipMandal से थर्रा उठा ट्विटर

ट्विटर के इस रवैये के खिलाफ पिछले तीन दिनों से बहुजन चेतना और सामाजिक न्याय के लिए संघर्ष करने वालों ने ट्विटर के खिलाफ मुहिम छेड़ी और इन तीन दिनों में #ब्रह्मणवादीट्विटर और ##Muslim-Virodhi-Twitter हैशटैग पर हजारों लोगों ने ट्विट किया और ये दोनों हैशटैग अलग अलग समय में टॉप ट्रेंड करते रहे.

#Muslim-Virodhi-Twitter पिछले 12 घंटे से टॉप ट्रेंड पर बना हुआ है.

सोशल मीडिया पर पैनी नजर रखने वाले दिलीप मंडल का कहना है कि ट्विटर इंडिया में मनुवादियों की भरमार है जो बहुजनों के खिलाफ घृणा फैलाने वालों को संस्थानिक रूप से समर्थन करते हैं. उधर नौकरशाही डॉट कॉम के एडिटर इर्शादुल हक का कहना है कि ट्विटर समेत सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफार्मों को मर्यादित और लोकतांत्रिक बनाये रखना होगा. उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि ट्विटर जैसा प्लेटफार्म नफरत फैलाने वालों के साथ खड़ा हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर इस स्थिति पर रोक नहीं लगाई गयी तो वह दिन दूर नहीं जब ट्विटर पर हिंसा भड़काने का भी आरोप लगे.

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*