बगहा में बने एएनएम संस्थान में जल्द शुरु हो प्रशिक्षण; मंजुबाला पाठक

बगहा में बने एएनएम संस्थान में जल्द शुरु हो प्रशिक्षण; मंजुबाला पाठक

बगहा अनुमंडलीय आवास परिसर में एएनएम प्रशिक्षण संस्थान को बने दो साल से अधिक हो गए परंतु एएनएम प्रशिक्षण नहीं हो रहा है।

Manju Bala
Manju Bala ने कोरनटाइन सेंटर की हालत पर चिंता जतायी

माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने इसका उद्घाटन तो किया परंतु अभी तक उस भवन में प्रशिक्षण नहीं हो रहा है फलस्वरूप चंपारण की लड़किया पटना और दुसरे प्रदेशों में जाकर प्रशिक्षण लेती है जिसमे उन्हे ज्यादा खर्च वहन करना पड़ता हैं।


परन्तु मुख्यमंत्री जी केवल चंपारण पिकनिक मनाने आते है।
हालात ये हैं कि उस भवन का निर्माण सरकार द्धारा तो किया गया परन्तु उसे पुरा करने की प्रक्रिया आजतक शुरू नहीं हो सकी। नतीजतन नवनिर्मित भवन भवन का रंग रोदन फीका पड़ रहा है।


इसके दीवार पर बरसात के समय काई पकड़ रखा है।साथ ही उस भवन में असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है।


उक्त बातें बिहार प्रदेश महिला कांग्रेस की पूर्व उपाध्यक्षा मंजुबाला पाठक ने मिडिया से बताया।


उन्होंने कहा की उक्त संबंध में वो बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखी है।
आपको बताते चलें की बाबु धाम ट्रस्ट की अध्यक्षा ने अपने ट्रस्ट के माध्यम से चंपारण में महिला स्वास्थ्य और स्किल डेवलपमेंट की बहुत सी कार्यक्रम कर चुकी है और अभी भी महिला कल्याणार्थ कार्यक्रम अनवरत जारी है।


मंजुबाला पाठक ने महिलाओं के कल्याणार्थ अपने बाबु धाम ट्रस्ट के माध्यम से महिलाओं और लडकियों के लिए बाबु धाम निशुल्क शिक्षण संस्थान खोल रखा है।साथ ही उनका कौशल विकास के लिए कार्यक्रम भी चलाती है।
साथ ही गरीब महिला और लडकियों के बीचको ऊनी वस्त्र और साड़ी भी वितरित करती है।


साथ ही पिछले कई वर्षों से उनके बीच कैंप लगाकर अपने ट्रस्ट के माध्यम से निःशुल्क सेनेटरी पैड वितरित करती है।


अस्पतालों में नवजातों के लिए निःशुल्क विटामिन k का इंजेक्शन वितरित करती है।
साथ ही कोरोना काल में विशेषकर महिलाओं के बीच दवा, अनाज, मास्क, सेनेटाइजर,और साबुन लगातार वितरित करते आई है।


महिलाओं में वैक्सीन को बढ़ावा देने के लिए अपने ट्रस्ट की संसाधनों जैसे गाड़ी, तकनीकी सामानों के माध्यम से अपने कार्यकर्ताओ द्वारा वैक्सिन दिलवाने में मदद करती है।
दलित महिलाओं के बीच पका पकाया भोजन भी बंटवाई है। उपरोक्त सारे कल्याणार्थ कार्यक्रम पुरुषों में भी चले हैं परंतु विशेषकर उक्त कल्याणार्थ कार्यक्रम में महिलाओं को विशेषकर फोकस किया गया था।
संवाददाताओ से बात करते हुए मंजुबाला पाठक ने कहा कि सरकार से वो अविलंब एएनएम प्रशिक्षण चालू करने की मांग करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*