गृहराज्य मंत्री टेनी पत्रकार पर झपटे, दीं गालियां, वीडियो वायरल

गृहराज्य मंत्री टेनी पत्रकार पर झपटे, दीं गालियां, वीडियो वायरल

यह नया भारत है। केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी से एक पत्रकार ने लखीमपुर हत्याकांड में एसआईटी की रिपोर्ट पर सवाल किया, तो भड़क गए। दीं गालियां।

दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बन रहे नए भारत की एक और बानगी देखिए। लखीमपुर में किसानों को मंत्री की थार जीप से रौंद कर हत्या किए जाने के मामले में एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में हत्याकांड को साजिशन-इरादतन बताया है। इसे लेकर जब एक पत्रकार ने देश के गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी से सवाल किया, तो मंत्री जी भड़क गए और गालियां देने लगे। पत्रकार को मारने के लिए झपटे। यह वीडियो देश में वायरल है-आप भी देखिए।

एबीपी न्यूज के सुशांत ने ट्वीट किया- SIT जांच में बेटे का नाम आने के बाद सवाल पर भड़के गृह राज्य मंत्री टेनी। टेनी ने abp रिपोर्टर से अभद्रता की। अजय मिश्रा ने एक दूसरे रिपोर्टर का फोन बंद करने को कहा। टेनी बोले- ऐसा है बेवकूफी के सवाल मत करो…दिमाग खराब है क्या बे ? फोन बंद कर बे।

पत्रकार संजय त्रिपाठी ने वीडियो शेयर करते हुए कहा-पत्रकारों पर भड़कने से अच्छा था कि अपने सुपुत्र को थोड़ा नियंत्रण में रखते टेनी मिश्रा जी। अब उसकी ग़लतियों की वजह से आप की कुर्सी फँस रही है, इसमें भी पत्रकार दोषी हैं?

अनेक लोगों ने टेनी को अब तक मंत्री पद से बर्खास्त नहीं किए जाने पर सवाल उठाए हैं। पत्रराप स्वाति चतर्वेदी ने कहा-टेनी में ऐसा क्या खास है कि अबतक @PMOIndia इसे हटाने में असमर्थ है। किसानों से माफी मांगनेवाले प्रधानमंत्री टेनी को पद पर बनाए रखकर किसानों का अपमान कर रहे हैं। पत्रकार संकेत उपाध्याय ने कहा-बिदके बिदके से टेनी नज़र आते हैं। बेटे पर सवाल पूछा तो मंत्री जी की गुंडई चालू। मीडिया ने नहीं मंत्री जी, SIT ने उनको मुख्य आरोपी बतलाया है। हूमा नाज ने कहा-ये हैं देश के गृह राज्य मंत्री। इससे ज्यादा शर्मनाक क्या हो सकता है? इनके रहते हम न्याय की उम्मीद कर सकते है क्या? जिसके हाथ में सारा सिस्टम हो उसके बेटे को सजा हो सकती है क्या? बाप के मंत्री रहते न्याय संभव है क्या?

चुनाव प्रत्याशी इस तिथि तक दें ख़र्च का हिसाब वर्ना..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*