गुजरात मॉडल : सात साल में 4 सीएम बदले, क्यों नपे रूपाणी?

गुजरात मॉडल : सात साल में 4 सीएम बदले, क्यों नपे रूपाणी?

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने प्रधानमंत्री मोदी के साथ एक कार्यक्रम में शामिल होने के कुछ देर बाद ही दे दिया इस्तीफा। आखिर क्यों नपे रूपाणी?

स्थिर सरकार देने का वादा करनेवाली भाजपा के भीतर सबकुछ ठीक नहीं है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कुछ ही महीने बचे हैं, लेकिन अबतक मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित नहीं कर पाई है भाजपा।

आज गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पीएम मोदी से मुलाकात के बाद इस्तीफा दे दिया। कांग्रेस ने भाजपा के गुजरात मॉडल पर सवाल उठाए। कांग्रेस के गौरव पांधी ने कहा- सात साल में 4 सीएम। कहां है स्थिर सरकार? हर डेढ़ साल में सीएम बदलना सरकार की विफलता का नायाब उदाहरण है। भाजपा सरकार चाहे कोविड हो या रोजगार, हर मोर्चे पर पिऴल रही है। भाजपा कांग्रेस की राजस्थान, पंजाब सरकारों के खिलाफ खूब हल्ला करती रही, जबकि उनके अपने प्रदेश के मुख्यमंत्री सुरक्षित नहीं हैं। याद रहे कांग्रेस ने इसी महीने कई दिनों तक कोविड न्याय यात्रा निकाली है।

सोशल मीडिया पर #गुजरात, #Gujarat और #vijayrupani ट्रेंड कर रहा है। लोग पूछ रहे हैं कि आखिर प्रधानमंत्री मोदी से मिलने के बाद विजय रूपाणी ने क्यों इस्तीफा दिया। माना जा रहा है कि कोविड, अर्थव्यवस्था और रोजगार मामले में रूपाणी सरकार पूरी तरह विफल रही है और लोगों का गुस्सा बढ़ रहा है।

दो दिन पहले अमेरिका की प्रसिद्ध मोटर कंपनी फोर्ड ने भारत में उत्पादन इकाइयां बंद करने का फैसला लिया। फोर्ड की दो इकाइयों में एक गुजरात के साणंद में स्थापित थी। दूसरी इकाई तमिलनाडु में थी। दोनों इकाइयों में फोर्ड ने 2.5 अरब डॉलर का निवेश किया था। अब फोर्ड ने भारत में इकाई बंद करने का फैसला लिया है, जो प्रधानमंत्री मोदी के गुजरात मॉडल की विफलता का उदाहरण माना जा रहा है।

उत्तराखंड के बाद गुजरात में अचानक मुख्यमंत्री बदले जाने से सोशल मीडिया पर लोग भाजपा पर खूब तंज कस रहे हैं। लोग यह भी पूछ रहे हैं कि क्या अगला नंबर मामा जी का है?

‘धन्यवाद मोदी जी’ अभियान का राहुल ने ऐसे दिया जवाब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*