पूरे विधि-विधान के साथ मंजूबाला ने मनाया छठ महापर्व

पूरे विधि-विधान के साथ मंजूबाला ने मनाया छठ महापर्व

बाबू धाम ट्रस्ट की अध्यक्षा और बिहार प्रदेश महिला कांग्रेस की पूर्व उपाध्यक्ष मंजुबाला पाठक ने सूर्योपासना का महापर्व छठ बड़ी धूमधाम से मनाया।

हर साल की तरह इस साल भी बाबू धाम ट्रस्ट की अध्यक्षा और बिहार प्रदेश महिला कांग्रेस की पूर्व उपाध्यक्ष मंजुबाला पाठक ने सूर्योपासना का महापर्व छठ बड़ी धूमधाम से मनाया। अपनी सुसराल चंपारण के गांव बड़गो में सैकड़ों छठव्रतियों के साथ मिलकर छठ घाट पर अपने पति एपी पाठक के साथ भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया।

मंजुबाला ने पूरे परंपरा और रीति से व्रत का पालन किया। अपने हाथों से ठेकुआ और अन्य छठ प्रसाद बनाया। साथ ही छठ की पूर्व संध्या पर गरीब छठव्रतियों के बीच साड़ी, चंगेला, सूप और अन्य पूजन सामग्री बांटी। सर्वविदित है कि विगत कुछ सालों से मंजुबाला ने काफ़ी भव्य तरीके से छठ पूजा किया। छठ पूजा के समय मंजुबाला पाठक की चेहरे की रौनक देखते बनती थी।

एपी और मंजुबाला पाठक के पुत्र आर्यन पाठक छठ घाट पर हो रहे अस्तायाम पूजा में संकीर्तन मंडली के साथ अपने बचपना के साथ काफी रम गए। उनकी अदाएं देखते बनती थीं।

छठ घाट पाठक दंपती सभी छठव्रतियों से मिले और उन्हें अपने प्रेम की सागर के आगोश में ले लिया। एपी और मंजुबाला पाठक ने दशकों से गरीबों की सेवा का बीड़ा उठा रखा है। चाहे कोरोना काल हो या कोई प्राकृतिक आपदा, हर समय एपी और मंजुबाला पाठक ने गरीबों और जरूरतमंदों की सेवा की है। महिलाओं को तो खासकर और पहली प्राथमिकता दी है। चाहे स्किल डेवलपमेंट हो या कोई और स्वास्थ्य कार्यक्रम। सभी कार्यक्रमों में पाठक दंपती ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। एपी और मंजुबाला पाठक जिस तरह समाज के कमजोर वर्ग की सेवा में तत्पर रहते हैं, उसकी इलाके में लोग सराहना कर रहे हैं। पाठक दंपती ने कहा कि आम लोगों का प्यार उन्हें और भी ज्यादा सेवा करते रहने की प्रेरणा देती है।

कंगना रनौत ने कही ऐसी बात, देशभर में हो रही छीछालेदर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*