राहुल की सजा पर रोक, INDIA दे रहा बधाई, NDA में मातम

राहुल की सजा पर रोक, INDIA दे रहा बधाई, NDA में मातम। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बाहल होगी सांसदी। ‘इंडिया’ के सारे दल दे रहे बधाई। भाजपा को भारी नुकसान।

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को राहुल गांधी के खिलाफ मोदी सरनेम वाले केस में मिली दो साल की सजा पर रोक लगा दी है। राजद, जदयू सहित INDIA में शामिल सभी दल राहुल गांधी को बधाई दे रहे हैं। कांग्रेस समर्थक राहुल के संघर्ष को सलाम कर रहे हैं। वहीं भाजपा खेमे में मायूसी फैल गई है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा सजा पर रोक लगाने से राहुल गांधी की संसद सदस्यता फिर से बहाल होने का रास्ता खुल गया है। उनका आवास भी फिर उन्हें मिल जाएगा। सुप्रीम कोर्ट के फैसले से विपक्ष में नया जोश आ गया है, वहीं भाजपा को भारी नुकसान हुआ है।

सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों की बेंच ने यह फैसला सुनाया। बेंच में जस्टिस बीआर गवई, जस्टिस पीएस नरसिम्हा और जस्टिस संजय कुमार शामिल थे। जजों की बेंच ने आश्चर्य जताया कि इस मामले में अधिकतम सजा क्यों दी गई। अधिकतम सजा के कारण राहुल गांधी की संसद सदस्यता चली गई। यह सिरफ् एक सांसद का मामला नहीं है, बल्कि संसद सदस्यता जाने से उस संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व भी संसद में नहीं रहा।

राहुल गांधी की सजा पर रोक के बाद उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा-माननीय सर्वोच्च न्यायालय का राहुल गांधी जी के संदर्भ में लिया गया फैसला स्वागत योग्य है। अगर भाजपा के दुष्प्रचारी एवं कॉम्प्रोमाइज्ड तंत्र को ये झटका नही लगता तो कई और विपक्षी नेताओं को ये साजिशों व षड्यंत्रों के तहत विधायिका से बाहर रखने की जालसाजी जारी रखते। सत्यमेव जयते!

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने कहा-राहुल गांधी जी को बधाई। माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश ने साबित कर दिया कि अंततोगत्वा न्याय की ही जीत होती है। न्याय स्थापित करने के लिए माननीय सर्वोच्च नयायालय को सलाम! सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा-मा. सर्वोच्च न्यायालय ने राहुल गांधी जी की सज़ा पर रोक लगाकर भारतीय लोकतंत्र और न्यायपालिका में लोगों की आस्था को बढ़ावा दिया है। भाजपा की नकारात्मक राजनीति का अहंकारी ध्वज आज उनके नैतिक अवसान के शोक में झुक जाना चाहिए।

ओवैसी ने नायब इमाम व ट्रेन में मारे गए लोगों के परिजनों को दी आर्थिक मदद

By Editor