अब शहीद ए आजम के रास्ते पर चलने के लिए बम फोड़ना जरूरी नहीं

हिंदुस्तान समाजवादी छात्र संघ, महिला जागरण मंच और अखिल हिंद फारवर्ड ब्लॉक {क्रांतिकारी  }ने संयुक्त रूप से अशहीद ए आजम भगत सिंह, सुखदेव और राज गुरु का शहादत दिवस मनाया. यह कार्यक्रम अखिल हिंद फारवर्ड ब्लॉक {क्रांतिकारी} के प्रांतीय कार्यालय पटना के लोहानीपुर में मनाया गया.

bhagatनौकरशाही डेस्क
इस अवसर पर भगत सिंह की महता के मद्देनजर “आज के राजनैतिक हालात में भगत सिंह का रास्ता क्या हो”? विषय पर चर्चा की गयी. इस चर्चा में वक्ताओं ने भगत सिंह को याद करते हुए कहा कि मौजूदा हालात में भगत सिंह के मार्ग पर चल कर ही हम समाज को शोषण और जुल्म से निजात दिला सकते हैं.

वक्ताओं ने कहा कि भगत सिंह का सपना आज भी पूरा नहीं हुआ है ऐसे में हमें उनके सपने को पूरा करने के लिए संघर्ष का रास्ता अपनाना होगा. बैठक में हिंदुस्तान समाजवादी छात्र संघ के अध्यक्ष शक्तिमान राही ने कहा कि मौजूदा हालात में बम फोड़कर समस्याओं के समाधान के लिए शासन को चेतावनी देने के बजाये हमें जन आंदोलन के जरिये सरकार तक अपनी बात पहुंचानी होगी क्योंकि इस देश में अब ब्रिटिश हुकूमत नहीं है.उन्होंने कहा कि मौजूदा हालात में ऐसे लोग हैं जो दिखते अपने हैं पर वह साम्राज्यवादी नीतियों को लागू करने में लगे हैं और आम जनता पर जुल्म व शोषण कर रहे हैं. राही ने कहा कि अगर हमें देश में समाजवाद स्थापित करना है तो मार्क्सवाद, लेनिनवाद और मावत्सेतुंग के विचारों को लाने के लिए भगत सिंह, सुभाष चंद्र बोस, सुखदेव और राजगुरु के रास्ते पर चल कर ही लाया जा सकता है. शक्तिमान राही ने कहा कि इसके लिए जन जन को शिक्षित करने की आवश्यकता है ताकि उनके अंदर चेतना लायी जा सके. और इसी रास्ते पर चल कर समाज में व्यापक परिवर्तन लाया जा सकता है.

सभा की शुरुआत में कॉमरेड भूषण ने शहीद गीत- “शहीदों ले लो लाल सलाम” गा कर की.सभा की समाप्ति संकल्प गीत- “देश हमारा, दरती सबकी हम धरती के लाल”, गा कर हुई.
बैठक में आर्ति अंशु, रंजीत, अमरीत, भगवान शर्मा, चंदन, अमेरेंद्र समेत अनेक लोगों ने अपने विचार रखे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*