कांग्रेस के सामने नीतीश ने घुटने टेके

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने  कहा है कि किसी के दबाव में काम न करने का दावा करने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कांग्रेस के दबाव में आकर तुरंत एक ऐतिहासिक तथ्य को बिहार सरकार की वेबसाइट से हटा लिया।

 
श्री मोदी ने पटना में कि बिहार सरकार की बेवसाइट पर ऐतिहासिक तथ्य डाला गया था कि अंग्रेजों ने जैसा बर्ताव राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के साथ नहीं किया था, वैसा व्यवहार तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आपातकाल के दौरान लोकनायक जयप्रकाश नारायण के साथ किया था। इस तथ्य के उजागर होने के बाद कांग्रेस ने श्री कुमार पर दबाव बनाया और उन्होंने इसे तुरंत हटवा दिया। भाजपा नेता ने कहा कि श्री कुमार कभी राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और कभी कांग्रेस के दबाव में काम कर रहे हैं। उन्होंने श्री कुमार से पूछा कि वह बतायें कि क्या यह सच नहीं है कि तत्कालीन प्रधानमंत्री  इंदिरा गांधी ने जन नेता जय प्रकाश नारायण को जेल में डालकर ऐसी यातनायें नहीं दी, जिससे उन्हें असाध्य बीमारी हो गयी और उनकी मृत्यु का कारण बनी। महागठबंधन सरकार सत्ता बचाने के लिए इतिहास बदलना चाहती है।
भाजपा के वरिष्‍ठ नेता नंदकिशोर यादव ने कहा है कि सत्ता की खातिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य सरकार की वेबसाइट से इमरजेंसी के दौरान तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के दमनात्मक रवैये संबंधी विवरण को हटा दिया है। श्री यादव ने आज कहा कि आपातकाल के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के दमनात्मक रवैये को भला कौन भूल सकता है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और कई अन्य नेता भी इस दमनकारी व्यवहार के भुक्तभोगी रहे हैं लेकिन मुख्यमंत्री ने उन ऐतिहासिक तथ्यों को सरकार की बेवसाइट से हटा दिया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*