नीतीश निश्‍चय के लिए खर्च होंगे सवा 14 हजार करोड़

विकसित बिहार के सात निश्चय को पूरा करने के लिए राज्य में अगले चार साल में 14,250 करोड़ रुपया  खर्च किया जायेगा।   प्राप्‍त जानकारी के अनुसार शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल, गली-नली के पक्कीकरण समेत विभिन्न योजनाओं के लिए करीब 27 हजार 663 करोड़ रुपये स्वीकृत किये गये । स्वीकृत राशि में से 9,026  करोड़ शिक्षा,  2351 करोड़ सामाजिक कल्याण,  636 करोड़ योजना विकास विभाग,  1400 करोड़ स्वास्थ्य विभाग और सात  निश्चय के तहत गली और नली के पक्कीकरण के लिए 14 हजार 250 करोड़ रुपया शामिल है । secr
 

वित्तीय वर्ष 2016-17 से वर्ष 2019-20 तक पंचायतों में गली नली के निर्माण के लिए इस मद  की राशि खर्च की जायेगी । सिर्फ वर्ष 2016-17 में 3021 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे । हर पंचायत को  सालाना एक करोड़ रूपये से अधिक की राशि खर्च करने के लिए दी जायेगी ।  सात निश्चय के तहत नर्सिंग कॉलेज एवं छात्रावास के लिए 423 करोड़ 96 लाख ,  एएनएम स्कूल एवं छात्रावास के लिए 340 करोड़ 58 लाख 88 हजार , पारा मेडिकल संस्थान एवं छात्रावास निर्माण के लिए  329 करोड़ 34 लाख ,  जीएनएम स्कूल एवं छात्रावास निर्माण के लिए 307 करोड़ 13 लाख 74 हजार रूपये की लागत पर  योजनाओं की पुनरीक्षित प्रशासनिक स्वीकृति प्रदान की । इसके साथ ही मंत्रिमंडल ने संबंधित कार्यों को कराने के उद्देश्य  से वित्तीय वर्ष 2016-17 में खर्च के लिए राशि भी आवंटित कर दी गयी।  मुख्यमंत्री नारी शक्ति योजना के अधीन महिला सशक्तिकरण नीति 2015 के कार्यान्वयन को समाहित करते हुए सहायक अनुदान के रूप में 24 करोड़ 60 लाख रूपये व्यय की स्वीकृति प्रदान दी गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*