बिहार में रिजल्‍ट से पहले गायब हुई 10वीं की 42400 कॉपियां

बीते तीन सालों से बिहार से स्‍कूली शिक्षा की फजहीत का सिलसिला रूक नहीं रहा. अब तक तो बिहार विद्यालय परीक्षा समिति फर्जी टॉपरों व अधिकारियों के रवैये के कारण सुर्खियां बटोरती थी. अब एक नया मामले ने एक बार फिर से बोर्ड को सुर्खियों में ला दिया है. ताजा मामला गोपालगंज के एसएस बालिका प्लस टू स्कूल के स्ट्रांग रूम बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा की कॉपियां गायब होने की है, जहां से मैट्रिक परीक्षा 2018 की मूल्यांकित 42400 कॉपियां गायब हैं.

नौकरशाही डेस्‍क

इस मामले में आज एसएस कॉलेज के प्रिंसिपल प्रमोद कुमार श्रीवास्तव BSEB के समक्ष पेश हुए. जहां, बोर्ड अध्‍यक्ष आनंद किशोर ने उनसे करीब दो घंटे पूछताछ की. पूछताछ में संतोषजनक उत्तर नहीं मिलने पर पटना पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. कॉपियां गायब होने के बाद बोर्ड और शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया.

मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार को 12 कॉपियों के गायब होने की जानकारी पर जब जांच शुरू हुई, तो यह खुलासा हुआ. प्राचार्य ने नवादा जिले से जांच के लिए आयी इन 42400 कॉपियों के गायब होने की प्राथमिकी दर्ज करा दी है. सबसे अधिक कॉपियां विज्ञान की हैं. मैट्रिक के रिजल्ट से ऐन पहले चोरी के इस खुलासे से परीक्षा विभाग में खलबली मची है.

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*