मुखियाओं को मिला आपदा प्रबंध का प्रशिक्षण

14 से 20 अप्रैल तक चल रहे अग्नि सुरक्षा सप्ताह के तीसरे दिन बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से अग्नि सुरक्षा के अंतर्गत 100 पंचायत मुखियाओं को लिए अग्नि सुरक्षा प्रशिक्षण सह मॉक ड्रिल कार्यक्रम का आयोजन किया गया। अग्नि सुरक्षा प्रशिक्षण सह मॉक ड्रिल कार्य क्रम का उद्घाटन महिला मुखियाओं द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया।safty

 

मुख्य अतिथि प्राधिकरण के नव मनोनीत सदस्य उदय कांत मिश्र ने करते हुए कहा कि हमारे यहां अकसर मौत सुरक्षा की पर्याप्‍त जानकारी नहीं होने के कारण होती है। बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण में आकर एक बात समझ आयी की यहां जीने का मकसद है। श्री विजय सिन्हा ने कहा कि प्राधिकार अपनी जिम्‍मेवारियों को गंभीरतापूर्वक निर्वाह कर रहा है। जापान में आये भूकंप का उदाहरण देते हुए कहा कि उन्होंने कहा कि हम लोगों को जापान को अपना रोल मॉडल बनाना चाहिए। इसलिए हमें इसके लिए पहले से तैयार रहना चाहिए, जो केवल जागरूकता के माध्यम से ही हो सकती है। बिहार ग्राम स्वरोजगार सोसाइटी के ओम प्रकाश,  राज्य परियोजना पदाधिकारी ने भी खेत खलिहान और ग्रामीण क्षेत्रों में आग की घटनाओं के कारण और उससे बचाव पर प्रकाश डाला।

 

कार्यक्रम में रेडक्रॉस की आपदा प्रबंधन समन्वयक वंदना सिंह ने भी रेडक्रॉस की भूमिका और ग्रामीण क्षेत्रों में अग्नि सुरक्षा के लिए चलाए जा रहे जागरूकता अभियान की जानकारी दी। यूनिसेफ के वीरेंद्र पाण्डे ने बताया कि पिछले तीन साल 255 गावों में अग्नि सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है, जिसकी वजह वही कोई भी आगजनी की घटना नहीं हुई हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*