मोइनुलहक स्टेडियम का होगा जीर्णोद्धार

खेलों के क्षेत्र में प्रतिभाओं को उभारने के उद्देश्य से बिहार में शीघ्र ही टास्क फोर्स का गठन किया जायेगा। राज्य के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर आयोजित खेल सम्मान समारोह-2017 का उद्घाटन करने के बाद समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि बिहार के खेल प्रतिभाओं को उभारने और उन्हें आगे बढ़ाने के लिए शीघ्र ही टास्क फोर्स का गठन किया जायेगा। इस टास्क फोर्स से तीन महीने में रिपोर्ट लेकर खेलों के लिए पांच साल की कार्य योजना तैयार की जायेगी। 

एक समय विश्व के सर्वाधिक सुंदर क्रिकेट स्टेडियम में शुमार मोइनुलहक स्टेडियम की चर्चा करते हुए उन्‍होंने कहा कि राजधानी के इस बड़े स्टेडियम के पुनरुद्धार की योजना बनाई जा रही है। उन्होंने दावा किया कि अगले पांच साल में बिहार देश के किसी राज्य से खेल के क्षेत्र में पीछे नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि नालंदा के राजगीर में 91 एकड़ में अन्तरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट स्टेडियम सहित स्पोर्टस एकेडमी के निर्माण की स्वीकृति दी गई है।

श्री मोदी ने कहा कि खेल प्रतिभाओं को सम्मान देने के लिए खेल सम्मान राशि को सात गुना बढ़ा कर दो करोड़ कर दिया गया है। इसी तरह राज्य के 276 प्रखंडों में आउटडोर स्टेडियम के निर्माण की योजना स्वीकृत की गई है जिनमें से 100 स्टेडियम का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है।  उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में खिलाड़ियों की प्रतिभा को निखारने के लिए एकलव्य आवासीय खेल प्रशिक्षण केन्द्र की योजना के तहत 17 जिलों में 34 केन्द्र स्वीकृत है जिनमें से 22 केन्द्र संचालित है और 12 केन्द्रों के संचालन की कार्रवाई जारी है। खिलाड़ी कल्याण कोष के जरिए खिलाड़ियों को प्रशिक्षण के लिए उपकरण, पोशाक आदि क्रय के लिए तथा प्रशिक्षण के दौरान चोटग्रस्त आदि होने पर चिकित्सा राशि प्रदान की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*