राकेश अस्‍थाना मामले में अब लालू और तेजस्‍वी ने बोला CBI पर हमला

केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के बीच जारी विवाद पर राजनीति भी जमकर हो रही है. भले ही आज दिल्‍ली हाई कोर्ट ने इस मामले में राकेश अस्‍थाना की गिरफ्तारी पर 29 अक्‍टूबर तक रोक लगा दी हो, मगर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने इसी बीच अपने अंदाज में CBI पर हमला बोल दिया है. वहीं, तेजस्‍वी ने #CBIvCBI सीबीआई को Corrupt Broker of India और PM  को Prime Merchant of India बताया है.

नौकरशाही डेस्‍क

लालू प्रसाद के ट्विटर अकाउंट से इस मामले में पोस्‍ट किया गया – ‘कस्तूरी कुन्डल बसे, मृग ढूँढत बन माहि. भ्रष्टवा सीबीआई बसे, भ्रष्ट ढूँढत विपक्ष माहि.. #CBIvCBI मालूम हो कि राकेश अस्थाना को लालू प्रसाद यादव से लगातार छह घंटे तक पूछताछ करने के बाद ही ख्याति मिली थी. वहीं लालू प्रसाद के ट्विट के कुछ देर बाद तेजस्‍वी यादव ने भी ट्विट कर जोरदार तरीके से हमला बोला और लिखा – ‘Corrupt Broker of India & Prime Merchant of India’. Both in collaboration have spoiled the reputation of premier institutions of the country. Both are good friends and share cordial relationship with all loan defaulters, scamsters & absconders.

इस मामले में कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने अस्‍थाना को पीएम मोदी का चहेता करार देते हुए अपने ट्विटर पर लिखा था कि प्रधानमंत्री मोदी के चहेते अधिकारी और गुजरात कैडर के आईपीएस अफ़सर जिन्होंने गोधरा मामले की जांच भी की थी, राकेश अस्थाना को रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया है.

Also Read- लालू को 1996 में गिरफ्तार करने वाला सीबीआई अफसर हो सकता है गिरफ्तार

मालूम हो कि सीबीआई ने जांच एजेंसी में नंबर दो की हैसियत वाले अधिकारी राकेश अस्थाना के ख़िलाफ़ रिश्वत लेने के मामले में एफ़आईआर दर्ज कराई है. सूत्रों के मुताबिक स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के सारे अधिकार वापस ले लिए गए हैं. ताजा विवाद हवाला और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी मीट कारोबारी मोइन कुरैशी केस में कथित रूप से दो करोड़ रुपये घूस लेने के आरोपों से जुड़ा है. इस केस में सीबीआई डायरेक्टर के निर्देश पर उनके खिलाफ केस दर्ज होने के बाद से सीबीआई में घमासान मचा हुआ है.

राकेश अस्थाना ने की थी CBI निदेशक के खिलाफ शिकायत

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*