रिम्‍स के डॉक्‍टरों की निगरानी में रहेंगे लालू

अविभाजित बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाला में सजायाफ्ता बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने रांची में केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेषअदालत में आत्मसमर्पण कर दिया और उसके बाद उन्हें बिरसा मुंडा जेल भेज दिया गया ।  कल ही पटना से रांची पहुंचे श्री यादव ने आज सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एसएस प्रसाद की अदालत में आत्मसमर्पण किया।

श्री यादव ने अदालत से आग्रह किया कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है इसलिए उन्हें राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) की निगरानी में रखा जाये। अदालत ने उनके आग्रह को स्वीकार कर लिया और आदेश दिया कि श्री यादव को रिम्स के डाक्टरों की निगरानी में चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायी जाये। अदालत के आदेश से श्री यादव को होटवार स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में भेज दिया गया और वहां मेडिकल जांच के बाद उन्हें बेहतर इलाज के लिए रिम्स भेज दिया गया। श्री यादव आज रिम्स में ही रहेंगे। उनकी जांच अभी पूरी नहीं हुई है। कल रिपोर्ट आने के बाद तय होगा कि वे रिम्स में रहेंगे या जेल में ही चिकित्सकों की  देखरेख में रहेंगे ।

गौरतलब है कि चारा घोटाला के तीन मामलों में दोषी करार दिये जा चुके श्री यादव चार महीने से औपबंधिक जमानत पर थे। पिछले 25अगस्त को झारखंड उच्च न्यायालय ने स्वास्थ्य के आधार पर उन्हें दी गयी औपबंधिक जमानत को रद्द करते हुए 30 अगस्त तक सीबीआई की विशेष अदालत में आत्मसमर्पण करने का निर्देश दिया  था। इसी आदेश के आलोक में राजद सुप्रीमो ने सीबीआई की विशेष अदालत में आत्मसमर्पण किया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*