पुलिस वालों से रिवॉलवर भी छीनी और पीट-पीट कर लहूलुहान भी किया

पुलिस की वर्दी  और उसकी बंदोंको का खौफ कुछ ऐसा खत्म हुआ कि ग्रामीणों ने मंगलवार की सुबह दो थानेदारों समेत छह पुलिसकर्मियों को पीट कर लहूलुहान कर दिया है. यह घटना बिहार के बक्सर जिले में हुई है 

बुरी तरह मारा, मैं कुछ बलने की हालत में नहीं हूं

बुरी तरह मारा, मैं कुछ बलने की हालत में नहीं हूं

बबलू उपाध्याय ,बक्सर से

बक्सर में पुलिस की छापेमारी दल पर ग्रामीणो ने हमला कर दिया और बंधक बनाकर उनकी जमकर पिटाई की। मामला बक्सर के कृष्णाब्रहम थाना क्षेत्र के नोनिया डेरा गांव का है।

 

बताया जा रहा है की पटना के गौरीचक थाना में दर्ज कांड संख्या 241 / 14 के मामले में गिरफ्तार एक युवक के निशानदेही पर पटना के गौरीचक और बक्सर के कृष्णब्र्हम थाना के थानाध्यक्ष अपने दल बल के साथ छापेमारी करने पहुंचे थे। पुलिस को सुचना मिली थी की ऑटो चालक की हत्या कर लूटा गया ऑटो नोनिया डेरा निवासी और मामले में आरोपी रवि शाहनी के बहनोई रामाशीष साहनी के पास है।

 

जैसे ही पुलिस की टीम गांव में पहुंची तो पुलिस को देख लोगों की भारी भीड़ इक्कठ्ठी हो गयी। अभी पुलिस पूछताछ कर ही रही थी कि एक युवक ने पटना के गौरीचक थाना प्रभारी रंजीत का सर्विस रिवॉल्बर छीन लिया और पुलिसकर्मियों को बंधक बनाकर उनकी पिटाई कर दी।

इस घटना में कृष्णाब्रहम के थानेदार सुधीर कुमार और गौरीचक के प्रभारी रंजीत को ज्यादा चोट आई। घटना की जानकारी पाकर मौके पर दल बल के साथ पहुंचे पुलिस के आलाधिकारियों ने दोनों थानेदारो को ग्रामीणो के चंगुल से मुक्त कराया और इलाज़ के लिए भेज दिया।

डुमराव के डीएसपी राकृष्ण गुप्ता ने बताया कि पुलिस ने बाद में छापेमारी कर आठ लोगो के गिरफ़्तारी की बात कह रही है.

इधर ग्रामीणो के कोपभाजन का शिकार बने दोनों थानेदारो को प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर उपचार के लिए भेज दिया गया है। कृष्णाब्रहम थानाध्यक्ष सुधीर कुमार  ने बताया की अपराधियो और ग्रामीणो ने मिलकर मिलकर अचानक हमला कर दिया जिसमे दोनों थानाध्यक्षो के अलावे अन्य पुलिसकर्मी भी चोटिल हुए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*