‘लखनऊ ब्वॉय’ ने कहा – अलविदा

वरिष्ठ पत्रकार और मैगजीन ‘आउटलुक’ के संस्थापक संपादक विनोद मेहता का निधन हो गया है। मल्टीपल ऑर्गन फेलियर के कारण रविवार को दिल्ली के एम्स में उन्होंने अंतिम सांस ली। मेहता के निधन से समूचे मीडिया जगत में शोक की लहर दौड़ गई है।vinod-mehta

विनोद मेहता की ऑटो बायोग्राफी है ‘लखनऊ ब्वॉय’

निधन पीएम मोदी व सीएम नीतीश ने जताया शोक

 

आज तक की खबर के अनुसार, 31 मई 1942 को तत्कालीन ब्रिटिश इंडिया के रावलपिंडी में विनोद मेहता का जन्म हुआ था। आजादी के समय उनका परिवार भारत आ गया। 1974 में ‘डेबोनॉयर’ मैगजीन के संपादक का पद संभालने से पहले उन्होंने सालों तक संघर्ष किया। मेहता दिल्ली में रहते थे और उनकी पत्नी सुमिता पॉल भी पत्रकार हैं। दोनों की एक बेटी भी है। हालांकि बेटी के बारे में उनकी पत्नी के अलावा अन्य किसी को पता नहीं था, लेकिन हाल के दिनों में इस राज से पर्दा उठा।

 

 शोक की लहर

संडे ऑब्जर्वर, इंडियन पोस्ट, द इंडिपेंडेंट, द पायनियर (दिल्ली) और आखिरकार आउटलुक से विनोद मेहता को पहचान मिली। यही नहीं, उन्होंने फिल्म एक्ट्रेस मीना कुमारी और संजय गांधी की जीवनी भी लिखी। विनोद मेहता की ऑटो बायोग्राफी ‘लखनऊ ब्वॉय’ खासी मशहूर रही, जो 2011 में पब्लिश हुई थी। ‘लखनऊ ब्वॉय’ की कहानी को आगे बढ़ाती उनकी एक और किताब ‘एडिटर अनप्लग्ड’ पिछले साल आई। विनोद मेहता के निधन की खबर से मीडिया जगत शोक में डूबा हुआ है। पत्रकार बिरादरी के लोग उन्हें अपनी-अपनी ओर से श्रद्धांजलि दे रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वरिष्ठ पत्रकार विनोद मेहता के निधन पर शोक व्यक्‍त किया है। उन्होंने ट्वीट करके उनके परिवार को सांत्वना दी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी गहरा शोक व्यक्त किया है। अपने शोक सन्देश में उन्‍होंने कहा है कि श्री मेहता एक साहसी संपादक थे जिन्हें उनकी बेबाक टिप्पणियों के लिए जाना जाता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*