समाज बचाओ आंदोलन: मुजफ्फरपुर के एसएसपी को निलंबित किया जाये

समाज बचाओ आंदलन ने एक प्रस्ताव पारित कर सरकार से मांग की है कि नालंदा जिले में प्रखंडों के गठन पर पुनर्विचार किया जाये. आंदोलन ने मांग की है ओऐब को एक अलग प्रखंड का दर्जा दिया जाये.kashif

प्रस्ताव में कहा गया है कि ओऐब को प्रखंड बनाने की सिफारिश एसडीओ ने भी की है लेकिन ग्रामीण विकास विभाग इसमें देरी कर रहा है.

रविवार को समाज बचाओ आंदोलन की पटना में बैठक हुई इसमें नालंदा, गया, शेखपुरा, पटना, नवादा और दरभंगा के डेलिगेट्स ने भाग लिया. दो सत्रों में चलने वाली बैठक की अध्क्षता काशिफ युनूस ने की. युनूस ने मांग की कि मुजफ्फरपुर के अजीजपुर में हुए साम्प्रदायिक आक्रमण का जांच अफसर किसी ईमानदार आईपीएस को बनाया जाये. उन्होंने कहा कि अजीजपुर की घटना के बाद मुजफ्फरपुर के एसएसपी रंजीत मिश्रा की लापरवाही के मद्देनजर उनको निलंबित किया जाना चाहिए.

समाज बचाओ आंदोलन के नेता रियाज आतिश ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार की सीबीआई में हमारा विश्वास नहीं है इसलिए मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की इस बात से हम सहमत नहीं कि अजीजपुर की घटना की सीबीआई जांच करायी जाये. समाज बचाओ आंदोलन ने एक 9 सदस्यों की कमेटी बनायी है जो अजीज पुर साम्प्रदायिक आक्रमण के बाद के हालात पर नजर रखेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*