अरवल में हिरासत में हुई मौत, उग्र हुए लोग, थाने पर हमला, जीप मे लगाई आग, बरसाये ईंट पत्थर

अरवल के कलेर पुलिस थाना  आज सुबह से ही रणक्षेत्र बना हुआ है. लोगों ने थाना में लगी जीप को आग लगा दी और जम कर पत्थरबाजी की.  दर असल लोग एक आरोपी की हुई हिरासत में मौत से उग्र हो गये हैं.. लोगों का आरोप है कि पुलिस ने उसे बेरहमी से पीट कर हत्या कर दी.
मुकेश कुमार, नौकरशाही मीडिया
अरवल जिले के कलेर पुलिस थाना के हाजत में संदेहास्पद हालत में आरोपी बबन साव की मौत हो गई। मृतक कई लूट कांड का आरोपी था।
ठाकुर बीघा का रहने वाला बबन साव(४५ वर्ष) नामक व्यक्ति की मौत कलेर पुलिस हाजत में होने की सूचना मिलने के बाद परिजनों व ग्रामीणों ने पुलिस थाने में पहुँच कर हमला बोल दिया. उग्र भीड़ इतने पर नहीं रुकी बल्कि उसने तोड़ फोड़ की और थाने की पुलिस जीप को जला डाला. इस दौरान जमकर पत्थरबाजी भी की गयी.
  ग्रामीणों का आरोप है कि आरोपी को पुलिस ने बेरहमी से पीटा जिसके कारण उसकी जान चली गयी. हालांकि इस मामले में पुलिस का अलग ही वर्जन है.  पुलिस का कहना है कि उसने हाजत में फांसी लगा ली.
  ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस ने उसे पीट कर हत्या कर दी. वे पुलिस के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ हत्या का एफआईआर दर्ज करने की मांग कर रहे थे. ग्रामीण थानाध्यक्ष को ततत्काल गिरफ्तार करने की मांग पर अड़े रहे. इसके बाद मामला बिगड़ता चला गया. जिससे उग्र भीड़ ने जम कर पत्थराव किया और पुलिस गाड़ी में आगल लगा दी.
लोगों का आरोप है कि यह एक गंभीर मामला है।परिजन इस पर कार्रवाई की मांग कर रहे है।उनका कहना है कि थानेदार पर कार्रवाई होनी चाहिए और उस पर FIR भी होना चाहिए। पुलिस का कहना है कि, बबन साव एक अपराधी किस्म का व्यक्ति था।
अब सवाल उठता है, कि कोई अपराधी या चोर- डकैत होगा उसे पकड़ कर हाजत में मार देने का अधिकार पुलिस को मिल गया है ? यह बहुत ही गंभीर मामला है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*