बिहार के DGP को छत्तीसगढ़ के DGP ने चेताया

बिहार के DGP को छत्तीसगढ़ के DGP ने चेताया

बिहार के DGP एस के सिंघल ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने ऐसी बात कही कि देश में हुई आलोचना। छत्तीसगढ़ के स्पेशल DGP ने कहा, बिहार के डीजीपी बहकें नहीं।

क्या पहनना है, क्या खाना है, कहां पूजा करनी-नमाज पढ़नी है, किससे प्रेम करना है, किससे नहीं, किससे शादी करनी है, किससे नहीं और कितने बच्चे पैदा करने हैं, आजकल ये सबकुछ हिंदुत्व ब्रिगेड तय करता है।

बिहार के डीजीपी एसके सिंघल कल समस्तीपुर में थे। समाज सुधार अभियान कार्यक्रम में मंच पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी थे। इसी मंच से डीजीपी एसके सिंघल ने कह दिया कि लड़कियों को अपनी मर्जी से शादी नहीं करनी चाहिए। मां-पिता जिससे कहें, उससे ही शादी करनी चाहिए। सिंघल साहब यहीं नहीं रुके, बल्कि यह भी कहा कि अपनी मर्जी से शादी करने से बाद में बहुत समस्या होती है। एसके सिंघल का यह बयान दो दृष्टि से महिलाओं का अपमान करनेवाला है।

पहला, सिंघल ने यह सुझाव लड़कों को नहीं दिया, लड़कियों को दिया। इसका मतलब है कि वे लड़कियों के विवेक-बुद्धि और निर्णय लेने की क्षमता को लड़कों से कम मानते हैं। फिर यह लड़का-लड़की में भेद करना भी है। जब जेंडर जस्टिस की बात हो रही है, तब ऐसे बयान अपमानजनक हैं।

दूसरा, सिंघल साहब ने स्त्री की स्वतंत्रता के खिलाफ बयान दिया है, जिसे हिंदुत्व ब्रिगेड को छोड़कर दुनिया का कोई भी लोकतांत्रित देश और सभ्य समाज स्वीकार नहीं कर सकता। भारत का सुप्रीम कोर्ट भी कह चुका है कि बालिग लड़की किससे शादी करेगी, यह तय करना उसका अधिकार है।

डीजीपी सिंघल के बयान के बाद छत्तीसगढ़ के स्पेशल DGP आरके विज ने ट्वीट करके कहा- #DGP should refrain from giving such a statement. पुलिस महानिदेशक को ऐसा कथन करने से परहेज़ करना चाहिये. #SanjivSinghal । पत्रकार अजीत अंजुम ने कहा-सही कहा आपने @ipsvijrk साहब कौन किससे शादी करे, ये सलाह देना DGP का काम कब से हो गया? सोशल मीडिया पर अन्य लोगों ने भी आपत्ति जताई है।

कालीचरण गिरफ्तार, लगी देशद्रोह की धारा, BJP सरकार को आपत्ति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*