कांग्रेस नेत्री मंजूबाला बोलीं, सदानंद बाबू को कभी नहीं भूलेगा बिहार

कांग्रेस नेत्री मंजूबाला बोलीं, सदानंद बाबू को कभी नहीं भूलेगा बिहार

कांग्रेस नेत्री मंजूबाला पाठक ने कहा, वरिष्ठ कांग्रेस नेता सदानंद सिंह का जाना बिहार के लिए बड़ी क्षति है। वे जनमानस में हमेशा रहेंगे।

कांग्रेस नेत्री मंजूबाला पाठक

कांग्रेस नेत्री मंजूबाला पाठक ने कहा कि बिहार कांग्रेस के स्तंभ सदानंद सिंह के निधन से पार्टी में शोक की लहर व्याप्त है। संवाददाताओं से बात करते हुए मंजुबाला पाठक कहा कि बिहार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सदानंद सिंह जी के निधन पर गहरी शोक-संवेदना व्यक्त करती हूं। उनका लंबा सामाजिक-राजनीतिक अनुभव रहा।

कांग्रेस नेत्री मंजूबाला ने कहा कि सदानंद बाबू एक कुशल राजनेता थे। उन्होंने कहा- ईश्वर से उनकी आत्मा को शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को दुख सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना करती हूं। बिहार कांग्रेस के स्तंभ सदानंद सिंह का निधन पटना के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान हुआ। भागलपुर के कहलगांव से 9 बार विधायक रहे। सदानंद सिंह बिहार सरकार में मंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रहे।

सदानंद सिंह के निधन से बिहार कांग्रेस में शोक की लहर व्याप्त है। पूर्व प्रदेश महिला कांग्रेस उपाध्यक्ष मंजूबाला पाठक ने सदानंद सिंह के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि ‘बिहार के सर्वमान्य नेता, कांग्रेस के योद्धा, मेरे पिता तुल्य सदानंद सिंह के जाने से एक राजनीतिक युग का अवसान हो गया। आपका हंसता हुआ चेहरा हमेशा याद रहेगा। संवाददाताओं से बात करते हुए मंजुबाला पाठक ने बताया की उनका लंबा सामाजिक-राजनीतिक अनुभव रहा।
बहुत सारे मौकों पर उन्होंने कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं, पदाधिकारीयों को एकत्र किया और पार्टी को मजबूती दिया।

पार्टी के बहुत सारे बैठकों में उन्होंने हम लोगों का मार्गदर्शन किया था। उनसे राजनीति की बहुत सीख मिली। वे कांग्रेस के हर कार्यकर्ता के लिए हमेशा उपलब्ध रहते थे। सरल स्वभाव, सादा जीवन और गांधी-नेहरू के विचारों के साथ उन्होंने जीवन जीया। वे बिहार के जनमानस में हमेशा याद रहेंगे।

झारखंड और बंगाल में धर्म की राजनीति करती भाजपा फंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*