कोरोना घोटाला : संसद में मनोज झा ने दिखाई ताकत, होगी जांच

कोरोना घोटाला : संसद में मनोज झा ने दिखाई ताकत, होगी जांच

कोरोना घोटाला की गूंज आज राज्यसभा तक पहुंच गई। राज्यसभा में राजद सदस्य मनोज झा ने घोटाले का मामला उठाया। उपराष्ट्रपति ने जांच का दिया आदेश।

बिहार में हुआ कोरोना घोटाला अब संसद में पहुंच गया है। आज राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सदस्य मनोज झा ने सटीक शब्दों में, तर्कपूर्ण तरीके से कोरोना घोटाले का मामला उठाया। उन्होंने एक अंग्रेजी अखबार में लगातार छप रही रिपोर्ट के हवाले से कोरोना घोटाले का मामला उठाया और कहा कि यह बिहार के लोगों के स्वास्थ्य से जुड़ा मसला है।

मनोज झा ने जिस गंभीरता के साथ मामला उठाया, उससे मामले की अनदेखी करना किसी के लिए संभव नहीं था। राज्यसभा की कार्यवाही की अध्यक्षता कर रहे उपराष्ट्रपति ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को तुरत जांच करने को कहा।

तेजस्वी की बात निकली सच, हुआ था कोरोना घोटाला हुआ

राजद नेता ने इंडियन एक्सप्रेस में लगातार छप रही खबरों का हवाला देते हुए सदन को बताया कि सिर्फ तीन जिलों के कुछेक अस्पतालों की जांच की गई है, उसी में घोटाला सामने आ गया। अस्पतालों में उन लोगों के नाम, पता और फोन नंबर दर्ज हैं, जिनका कोरोना टेस्ट करने का दावा किया गया। फोन नंबर फर्जी पाए गए हैं। कई लोग ऐसे मिले, जनका फोन नंबर दर्ज है, पर बात करने से ऐसे लोगों का कहना है कि उन्होंने कभी कोरोना टेस्ट नहीं कराया।

सांसद मनोज झा ने कहा कि मामला राज्य की बड़ी आबादी के स्वास्थ्य से जुड़ा है, इसलिए इसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए। मनोज झा के सवाल उठाने को गंभीरता से लेते हुए जांच का आदेश दिया जाना स्पष्ट करता है कि प्रथम नजर में उपराष्ट्रपति ने भी गड़बड़ी पाई।

बिहार के किसी मामले में अरसे बाद ऐसा हुआ कि उपराष्ट्रपति ने केंद्र सरकार के मंत्री को जांच करने को कहा। मनोज झा ने घोटाले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि जांच कौन करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*