हम फ्री में चावल देते हैं, मोदी फ्री में गैस दें : ममता

हम फ्री में चावल देते हैं, मोदी फ्री में गैस दें : ममता

बंगाल में दो बड़ी रैलियां हुईं। एक पीएम की दूसरी सीएम की। ममता ने पीएम को चुनौती देते हुए मांग की-हम फ्री में चावल देते हैं, मोदी फ्री में गैस दें। और क्या कहा ममता ने ?

कुमार अनिल

कल कोलकाता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभा कर रहे थे, जवाब में सिलीगुड़ी में ममता ने हजारों महिलाओं के साथ गैस सिलिंडर लेकर पैदल मार्च किया। मंच पर भी आदमकद गैस सिलिंडर रखा था। जहां प्रधानमंत्री ने सोनार बांग्ला, बंगाल में रोजगार देने, निवेश बढ़ाने जैसी बातों पर जोर दिया, वहीं ममता ने लोगों के जीवन से जुड़े सवाल उठाए। कहा, हम फ्री में अनाज देते हैं, मोदी सरकार फ्री में रसोई गैस दे।

ममता का भाषण टू-ट्यूब पर उपलब्ध है, जिसमें ममता बार-बार महिला श्रोताओं से सवाल पूछती हैं और भीड़ जवाब देती है। ममता ने कहा कि गैस के दाम एक हजार छूनेवाले हैं, पेट्रोल के दाम सौ पर पहुंच गए हैं। ममता ने कोरोना काल की परेशानियों की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री पर हमला किया कि उस समय पीएम लोगों को देखने नहीं आए। ममता बोली- वे तब भी गलियों में सोशल डिस्टेंसिंग का सफेद गोला बना कर महत्व बता रही थीं। ममता ने प्रधानमंत्री का कोरोनारोधी इंजेक्शन पर चित्र होने पर भी कटाक्ष किया। कहा, उन्होंने सरदार पटेल स्टेडियम को अपने नाम पर कर लिया अब देश को अपने नाम करना चाहते हैं।

बार-बार आपा क्यों खो रहे मुख्यमंत्री, किस बात की परेशानी

ममता ने अपनी उपलब्धियों को भी गिनाया। ममता के तेवर बहुत ही तल्ख थे। लॉ एंड ऑर्डर खराब होने के आरोप पर ममता ने कहा-बंगाल में बेटियां दिन और रात निर्भय होकर घूमती हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश में कोई बेटी शाम के बाद नहीं निकलती। उनके श्रोताओं में भी उत्साह दिख रहा था, पर देखना है कि वे इस उत्साह को मतों में कितना तब्दील कर पाती हैं।

महिला दिवस : बेलदार की बेटी को न नइहरे सुख, न ससुराले

उधर प्रधानमंत्री ने आशोल परिवर्तन पर जोर दिया, जिसमें युवकों को रोजगार मिलेगा, नए उद्योग खुलेंगे। शिक्षा और स्वास्थ्य बेहतर होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*