JNU स्टूडेंट यूनियन इलेक्शन में चारों सीटों पर वाम दलों का कब्जा, गीता होंगी नई अध्यक्ष

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) छात्रसंघ चुनाव में एक बार फिर वाम छात्र यूनियनों का कब्जा रहा है. विश्वविद्यालय में हुए स्टूडेंट यूनियन के चुनाव के नतीजे शनिवार देर रात जारी कर दिए गए. चारों सीटों पर यूनाइटेड लेफ्ट पैनल (आईसा, एसएफआई और डीएसएफ) ने बाजी मारी है.

नौकरशाही डेस्क

देर रात चली मतगणना के बाद आए परिणाम में सेंट्रल पैनल की चारों सीट पर लेफ्ट यूनिटी ने कब्जा किया.  लेफ्ट यूनिटी की गीता कुमारी ने अध्यक्ष, सिमोन जोया खान ने उपाध्यक्ष, दुग्गिराला श्रीकृष्ण ने महासचिव तो शुभांशु सिंह ने संयुक्त सचिव पद पर जीत हासिल की.

मिली जानकारी के अनुसार अध्यक्ष पद के लिए गीता कुमारी ने 1506 वोट लेकर एबीवीपी की निधि त्रिपाठी(1042)को हराया. जबकि उपाध्यक्ष के लिए सिमोन जोया खान  ने 1876 वोट हासिल कर एबीवीपी के दुर्गेश(1028) को शिकस्त दी.  इसी प्रकार महासचिव पद पर दुग्गिराला श्रीकृष्ण  ने 2082 वोट लेकर एबीवीपी के निकुंज मकवाना(975) को और संयुक्त सचिव के लिए शुभांशु सिंह ने 1755 वोट हासिल कर एबीवीपी के पंकज केसरी (920) को मात दी. गौरतलब है कि इन चुनावों के लिए शुक्रवार को 58.69% वोटिंग हुई थी. कुल 7904 वोटर्स में से 4639 ने वोट डाले थे.

हालांकि मतगणना के शुरुआती रुझान में  काउंसलर्स पद में एबीवीपी को काफी बढ़त मिल रही थी, लेकिन सेंट्रल पैनल में लेफ्ट यूनिटी आगे बढ़ गया. इस बार के चुनाव में लेफ्ट को एबीवीपी ने अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व महासचिव पद पर बराबर टक्कर दी. चारों पदों पर दूसरे नंबर पर आने वाली एबीवीपी ने साइंस स्कूल और स्पेशल सेंटर्स में इस बार भी अच्छा प्रदर्शन करते हुए चारों सीटों पर सबसे ज्यादा वोट हासिल किए.

उधर, स्कूल ऑफ इंटरनैशनल स्टडीज, स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज और स्कूल ऑफ लैंग्वेज, लिटरेचर ऐंड कल्चरल स्टडीज में लेफ्ट ने बाजी मारी. इस तरह इन चारों स्कूल्स में कुल मिलाकर यूनाइटेड लेफ्ट पैनल के कैंडिडेट्स के वोट ही सबसे ज्यादा रहे.

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*