मरीज के बेड पर पैर रखकर बात करते प्रशिक्षु IAS, फोटो वायरल

मरीज के बेड पर पैर रखकर बात करते प्रशिक्षु IAS, फोटो वायरल

छत्तीसगढ़ के एक प्रशिक्षु आईएएस का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल है। ये अधिकारी मरीज के बेड पर पैर रखकर ‘खैरियत’ पूछ रहे हैं। क्या है सच्चाई?

आज सोशल मीडिया पर एक फोटे वायरल है, जिसमें छत्तीसगढ़ के एक प्रशिक्षु आईएएस एक महिला मरीज के बेड पर पैर रखकर हाल पूछ रहे हैं। इस फोटो को देखते ही कोई भी कह सकता है कि यह किसी पर धौंस जमाने की सामंती कोशिश है। Upsc Civil Services Exam ने इस फोटो को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा-गनीमत है कि अभी ट्रेनी हैं वरना जूता मरीज के सिर पर भी रख सकते थे साहब जी। इस ट्वीट को अबतक लगभग 31 हजार लाइक्स मिल चुके हैं और आठ हजार रिट्वीट किया गया है। कमेंट्स की भरमार है।

इस फोटो पर प्रतिक्रिया देते हुए अनेक लोग वहां की कांग्रेस सरकार तथा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। कांग्रेस सरकार पर सवाल किए जा रहे हैं।

इस बीच आजतक ने फैक्ट चेक करने के बाद खबार प्रकाशित की कि यह तस्वीर छह साल पुरानी है। तब कांग्रेस की नहीं, बल्कि भाजपा की सरकार थी और मुख्यमंत्री थे भाजपा के रमन सिंह। इस तरह कांग्रेस सरकार और मुख्यमंत्री बघेल से कार्रवाई की मांग करना बेतुका है। इस फोटो को सामने रखकर कांग्रेस सरकार को घेरने की कोशिश जानकारी के अभाव में हो रही है या यह कांग्रेस सरकार को बदनाम करने की जानबूझ कर कोशिश है, कहना मुश्किल है, लेकिन जिस किसी ने इस पुराने फोटो को आज जारी किया, उससे उसकी मंशा पर शक होना वाजिब है।

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के खिलाफ जानबूझ कर इस फोटो का इस्तेमाल किया जा रहा, इस बीत की पुष्टि इससे भी होती है कि इस फोटो के साथ भूपेश बघेल पर और कांग्रेस पर हमले किए गए हैं। कई लोगों ने लिखा है कि यह आईटी सेल का कांग्रेस की छवि खराब करने का षडयंत्र है।

‘नीतीश जाएंगे दिल्ली और जदयू का भाजपा में होगा विलय’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*