मिलिए मुश्ताक अली टी-20 में सबसे अधिक रन बनाने वाले स्टार से

मिलिए मुश्ताक अली टी-20 में सबसे अधिक रन बनाने वाले स्टार से

सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट में खेलने गई बिहार की टीम पटना लौटी है। जानिए क्या कहा इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने वाले स्टार खिलाड़ी ने।

कुमार अनिल

क्या आप जानते हैं सैयद मुश्ताक अली टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट में बिहार के किस खिलाड़ी ने सबसे अधिक रन बनाया? इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनानेवाले खिलाड़ी का नाम हैं शशीम राठौर। इन्होंने मजबूत टीमों के खिलाफ पांच मैचों में 145 रन बनाए।

ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए चर्चित शशीम ने अबतक 13 रणजी मैच खेले हैं। 16 वनडे मैच भी खेले हैं। टी-20 में भी उनका प्रदर्शन शानदार रहा है। वे देहरादून के नामी स्कूल में पढ़ाई कर रहे थे। उम्र थी केवल 14 साल। तभी इन्होंने खुद को पहचाना और तय किया कि अब जीवन केवल क्रिकेट के लिए ही समर्पित होगा।

शशीम कहते हैं, पिता संजय कुमार सिंह ने काफी सपोर्ट किया। कहा- मैं लकी हूं कि वे मेरे पिता हैं। मेरी इच्छा जानकर उन्होंने मुझे देश के चर्चित क्रिकेट एकेडमी में दाखिला दिलाया। यह वही एकेडमी है, जहां विराट कोहली खेला करते थे। वे मेरे सीनियर थे। एकेडमी का नाम है-वेस्ट देलही क्रिकेट एकेडमी।

मिलिए बिहार रणजी टीम के स्टार खिलाड़ी बाबुल से

पहला रणजी मैच 2013 में खेला। पहले मैच में स्वाभाविक तौर पर थोड़ा नर्वस था, टीम में बड़े-बड़े खिलाड़ी थे। थोड़े दिनों बाद सबकुछ सामान्य हो गया।

धौनी के साथ बिताया एक महीना

शशीम कहते हैं एक बार महेंद्र सिंह धौनी ने तय किया कि वे झारखंड रणजी खेलेंगे। मैं उस समय झारखंड से ही खेला करता था। हम एक महीने से ज्यादा समय तक साथ रहे, प्रैक्टिस की। उन्होंने मुझे बैटिंग के कई टिप्स दिए, जो मेरे बहुत काम आए। उनका नाम तो बहुत सुना था, पर वे जैसे मिस्टर कूल के नाम से विख्यात हैं, वैसे ही मिले। नए खिलाड़ियों को हमेशा सपोर्ट करते थे। यह 2017 की बात है। उनके साथ रणजी खेलना सौभाग्य की बात हैं। मैं जम्मू के खिलाफ मैच में उनके साथ था। मुझे संतोष है कि मैंने उस मैच में 40 रन बनाए।

सपने में भी क्रिकेट ही

शशीम बताते हैं उनकी सबसे यादगार पारी 2019 में सिक्किम के खिलाफ थी। उस मैच में उन्होंने सिर्फ 80 गेंदों पर 103 रन बनाए थे। जब उनसे पूछा गया कि आप सपने में क्या देखते हैं, तो हंस पड़े। कहा, सपने में भी क्रिकेट ही खेलता हूं। फिलहाल तो एक ही सपना आता है कि सै. मुश्ताक अली टी-20 के क्वार्टर फाइनल में राजस्थान के खिलाफ कैसे आउट हो गया।

नए खिलाड़ियों के लिए संदेश पूछने पर कहते हैं कि हार्ड वर्क का कोई विकल्प नहीं है। अपनी टेक्निक पर खूब मेहनत करें। सफलता जरूर मिलेगी। और हां, वे दो ग्लास दूध रोज पीते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*