आपा खो चुके मोदी के बे सिर पैर के बयान से उड़ रही है खिल्ली

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के बाद से नरेंद्र मोदी अपना आपा खो चुके हैं. वह अपने विरोधियों पर धारदार हमला तो पहले भी करते रहे हैं. लेकिन चौथे चरण के बाद से जिस तरह से नरेंद्र मोदी असंतुलित बयान और बे सिर पैर की टिप्पणियां करने लगे हैं उससे उनके अंदर क्या चुनाव हारने का हताशा समा गया है?

  • ओवैसी ने कहा कि आप गजब के एक्सपर्ट हैं सर. अपने नाम से चौकदार हटा कर एयर मार्शल कर दीजिए

  • कांग्रेस ने कहा सिर्फ जुमला ही फेका है पांच साल में

मोदी ने एक साक्षात्कार में कहा है कि पाकिस्तान के बालाकोट पर एयरस्ट्राइक करने के पहले हमने विशेषज्ञों की मीटिंग बुलाई. इसमें विषेषज्ञ इस बात के लिए आशंकित थे कि भारी बारिश और बादलों के बीच हमला कैसे हो सकता है. लेकिन मैंने उन्हें कहा कि बादलों के बीच हमला करने से हमारा राकेट पाकिस्तानी रडार के सिग्नल पर नहीं आ सकता. मोदी ने कहा कि वह विज्ञान के जानकार नहीं हैं पर उन्होंने साइंटिस्टों के आशंका पर यह बात कही.

 

इंदिरा गांधी को पहली बार अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था दुर्गा, जानिये वाजपेयी के नेहरू-इंदिरा-राजीव से कैसे थे संबंध   

मोदी के इस हलके-फुलके, और अपरिपक्व बयान पर विरोधी दलों ने जोरदार खिल्ली उड़ाी है. 

हाल ही में राहुल गांधी के पिता व पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर गैरजिम्मेदाराना टिप्पणी करने के मामले में नरेंद्र मोदी, मीडिया, सोशल मीडिया, सामाजिक कार्यकर्ताओंऔर नेताओं के निशाने पर आ गये थे. मोदी ने राजीव के बारे में कहा था कि उनके ( राहुल के) पिता अपने दरबारियों के बीच मिस्टर क्लीन कहलवाना पसंद करते थे. लेकिन एक भ्रष्ट नेता के रूप में उनकी जान गयी.

याद रखने की बात है कि बोफोर्स तोप खरीद के मामले में भ्रष्टाचार के आरोप तत्कालीन सरकार पर लगे थे. लेकिन यह मामला अदालत में पंद्रह सालों तक चलता रहा लेकिन अदालत ने राजीव गांधी को क्लीन चिट दे दी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*