चमकी से 150 से ज्यादा बच्चों की मौत से फजीहत के बाद नीतीश सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

चमकी से 150 से ज्यादा बच्चों की मौत से फजीहत के बाद नीतीश सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

इस बार चमकी बुखार से मुजफ्फरपुर समेत अन्य जिलों में चमकी बुखार से डेढ़ सौ से ज्यादा बच्चों की मौत के बाद फजीहत झेल रही नीतीश सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है.

इसके तहत SKMCH  में 100 बेड़ का ICU बनाया जायेगा. नीतीश कैबिनेट ने यह फैसला लिया है. इसपर 62 करोड़ रुपए खर्च होंगे. इसी के साथ एसकेएमसीएच में मरीजों के अटेंडेंट के लिए एक रात्रिवास भी बनेगा. 

SKMCH में बनेगा ICU

गौरतलब है कि बिहार में स्वास्थ्य सेवाओं में भारी कमी के चलते पिछले कुछ महीनों से लगातार मौतें हो रही हैं. विशेष रूप से एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रॉम (AES) यानी चमकी बुखार के चलते बच्चों की मौत होना अब भी जारी है. इस दौरान पिछले दिनों नीतीश सरकार के अनेक मंत्रियों ने स्वीकार किया था कि बच्चों के इलाज के लिए अस्पताल में आवश्यक सेवाओं की भारी कमी थी. यहां तक एक ही बेड पर अनेक बच्चों को रखा जा रहा था. मासूमों की लगातार होती मौतों के बाद विपक्षी पार्टियां लगातार विधानसभा में हंगामा कर रही हैं और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के इस्तीफा के लिए दबाव डाल रही हैं.

Also Read खामोश सुशासन बाबू की अंतर्रात्मा सो रही है

कैबिनेट के अन्य फैसले

कैबिनेटने एक अन्य फैसले में बिहार सरकार ने वर्ष 2004 के बाद किसी अन्य सरकारी सेवाओं से बिहार सरकार की सेवा में आने वाले कर्मचारियों और अधिकारियों को भी अब ग्रेच्युटी का लाभ देगी जिन्हें अभी तक ग्रेच्युटी का लाभ नहीं मिलता था.
कैबिनेट के इस फैसले का इंतजार काफी दिनों से ये अधिकारी कर रहे थे.
 
 कैबिनेट के फैसले का लाभ एक हजार कर्मियों को होगा जो दूसरे राज्य या केंद्र की नौकरियों में थे और न्यू पेंशन स्कीम लागू होने के बाद बिहार सरकार की सेवा में आए थे. इसके अलावा कैबिनेट ने वादा में जलापूर्ति के लिए 77.91 करोड़ रुपए और भोजपुर के नेकनाम टोला में जलापूर्ति योजना को भी स्वीकृति दे दी है.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*