बिहार ने वैक्सीन खरीदा, तो बिहारियों पर ही पड़ेगी मार : राजद

बिहार ने वैक्सीन खरीदा, तो बिहारियों पर ही पड़ेगी मार : राजद

वैक्सीन अब 300 रुपए में मिलेगी। फिर भी बिहार को इसके लिए हजारों करोड़ रुपए खर्च करने होंगे। यह मार गरीबों पर ही पड़ेगी। सीएम चुप, राजद चलाएगा अभियान।

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने कोविशील्ड वैक्सीन की एक डोज की कीमत 400 रुपए से घटाकर 300 रुपए कर दी है। सीरम अब भी वही वैक्सीन केंद्र को 150 रुपए में देगा। राजद ने पूछा है कि जब पिछले 70 वर्षों में हर केंद्र सरकार फ्री वैक्सीन देती रही, तो पहली बार राज्यों पर बोझ क्यों डाला जा रहा है।

राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने कड़े शब्दों में कहा कि यह पहले से मर रहे गरीबों के साथ लूट योजना है। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार गरीब विरोधी है।

गगन ने कहा कि बिहार सरकार को सिर्फ युवा आबादी के लिए वैक्सीन खरीदने पर चार हजार करोड़ से अधिक की राशि खर्च करनी होगी। मुख्यमंत्री चुप हैं, पर वे बताएं कि यह राशि वे कहां से देंगे?

राजद प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गरीबों की रोजगार योजना में कटौती करेंगे, शिक्षकों पर बोझ बढ़ेगा और अंततः नई बहालियां बंद या कम हो जाएंगी।

द गार्डियन ने याद दिलाया, कब्रिस्तान बना, तो श्मशान भी बनेगा

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की चुप्पी के कारण बिहार को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। चूंकि वे प्रधानमंत्री से बिहार का हक मांगने को तैयार नहीं है, इस स्थिति में राजद राज्यों को मुफ्त में वैक्सीन देने के लिए पूरे बिहार में अभियान चलाएगा।

उधर, कांग्रेस के राहुल गांधी ने आज लगातार दूसरे दिन कहा कि केंद्र सरकार को राज्यों को फ्री में वैक्सीन देना ही होगा। कांग्रेस के ही गौरव पांधी ने कहा कि अब जबकि केंद्र के बिना किसी सहयोग के राज्यों को ही टीकाकरण चलाना है, तो केंद्र सरकार के पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन और सर्टिफिकेट पाने की बाध्यता क्यों? इससे पहले भगस तिंह पर किताब लिखनेवाले प्रो चमन लाल ने भी सवाल उठाया था कि वैक्सीन लेने के बाद सर्टिफिकेट पर प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर क्यों। उन्होंने कहा ता कि जबतक यह तस्वीर नहीं हटाई जाएगा, वे वैक्सीन नहीं लेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*