फिर मिले मोदी को लाइक से ज़्यादा डिसलाइक

फिर मिले मोदी को लाइक से ज़्यादा डिसलाइक

कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को डिसलाइक मिलने पर ट्वीट में टिपण्णी की है. उन्होंने कहा कि वो डिसलाइक और कमेंट बंद कर सकते हैं, लेकिन आपकी आवाज़ नहीं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा को सोशल मीडिया साइट यूट्यूब पर लगातार जारी है डिसलाइक मिलने का
सिलसिला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा को लगातार सोशल मीडिया पर डिसलाइक मिल रहे है. इस बार उनके गरीबी को लेकर बनाये गए वीडियो को जनता ने लाइक से ज़्यादा डिस लाइक किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी बीजेपी को यूट्यूब पर भारत के सभी क्षेत्रो से डिसलाइक मिल रहे है, प्रधानमंत्री के मन की बात से शरू हुआ यह सिलसिला अब बीजेपी के सोशल मीडिया सेल के लिए बड़ी चुनौती बन गया है क्यूंकि बिहार चुनाव सर पर है और नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता लगातार घट रही है.

कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को डिसलाइक मिलने पर ट्वीट में टिपण्णी की है. उन्होंने कहा कि वो डिसलाइक और कमेंट बंद कर सकते हैं, लेकिन आपकी आवाज़ नहीं। हम आपकी बात दुनिया के सामने रखते रहेंगे। इसके बाद उन्होंने अपने ट्वीट में #RRBExamDates को ऐड करके रोज़गार का मुद्दा उठाया।

कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम को बीजेपी के यू ट्यूब चैनल पर लगभग डेढ़ लाख लाइक की जगह लगभग साढ़े 8 लाख से ज़्यादा डिसलाइक मिले थे। सिर्फ यही नहीं प्रधानमंत्री कार्यालय के द्वारा यूट्यूब पर अपलोड किये गए मन की बात प्रोग्राम को लाइक से 10 गुना ज़्यादा लोगो ने डिसलाइक किया था. जिसके बाद यूट्यूब चैनल पर कमेंट, लाइक और डिसलाइक ऑप्शन को ही बंद करना पड़ा था.

मोदी के मन की बात पर कमेंट से लेकर लाइक/डिसलाइक भी बंद

अब बीजेपी के ही यू ट्यूब चैनल पर आत्मनिर्भर भारत के तहत “कोरोना महामारी में देशवासियों के साथ हर कदम पर खड़ी मोदी सरकार” नाम के वीडियो को भी लोगों ने भरी संख्या में नापसंद किया। कमेंट बॉक्स में लोगों ने अपने इलाके या शहर या गांव का नाम लिखकर मोदी सरकार की आलोचना की. खबर लिखे जाने तक 16 हज़ार लोगो ने इस वीडियो को नापसंद किया वही सिर्फ 2800 लोगों ने इसे लाइक किया.

डिजिटल पार्टी मानी जाने वाली बीजेपी कई फ़ेसबुक पेज और कई ट्विटर हैंडल चलाने वाली बीजेपी इन दिनों यू ट्यूब पर मिल रहे डिसलाइक्स से परेशान है। इन डिसलाइक्स को लेकर राजनीतिक गलियारों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घटती लोकप्रियता और कोरोना महामारी एवं रोज़गार के मुद्दे पर लोगो के गुस्से की जोरदार चर्चा हो रही है.

4 सितंबर को बीजेपी के यू ट्यूब चैनल पर गरीबो की पीड़ा पर बनाये गए वीडियो को लोगो ने नापसंद कर दिया। जनता को खींचने के लिए वीडियो में लिखा था कोरोना महामारी में देश वासियों के साथ हर क़दम पर खड़ी मोदी सरकार, इसमें मोदी जी का फ़ोटो भी है।

वीडियो में एक बुजुर्ग महिला को एक दुकानदार से यह कहते हुए दिखाया गया है कि वह उसे मुफ़्त राशन दे दे। बुजुर्ग महिला कहती है, ‘तीन महीने से मेरे घर का चूल्हा मोदी जी के कारण जल रहा है, हम ग़रीबों को मोदी जी कब तक झेलेंगे।’ इस पर दुकानदार कहता है- ‘जो ख़ुद ग़रीब परिवार से आया हो, वह किसी को झेलता नहीं है, दूसरों का सहारा बनता है।’

खबर लिखे जाने तक इस वीडियो को 2800 लोगो ने लाइक किया जबकि 16 हज़ार डिसलाइक मिल चुके थे।

क्या हो गयी सोशल मीडिया के शहंशाह मोदी के पतन की शरूआत?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*